“SKY” ने बढ़ाया CM भूपेश का टेंशन…. पूछा – क्या करूं इन स्काई का आप ही बतायें… प्रेस कांफ्रेंस में पूछे गये सवाल पर बोले मुख्यमंत्री

रायपुर 11 जनवरी 2019। “स्काई” ने CM भूपेश बघेल की टेंशन बढ़ा दी है। आज खुद CM भूपेश बघेल ने इस “SKY” नाम के टेंशन से निजात दिलाने के लिए सुझाव मांगे हैं। दरअसल आज मुख्यमंत्री भूपेश बघेल पीसीसी दफ्तर में प्रेस कांफ्रेंस ले रहे थे। उसी दौरान राजधानी में बने स्काई वाक को लेकर उनसे पूछा गया। जवाब मुख्यमंत्री भूपेश बघेल का बेहद दिलचस्प अंदाज में दिया। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने कहा कि ये स्काई वाक का क्या किया जाये, इसके लिए हम लोगों से सुझाव मांग रहे हैं, प्रबुद्धजन, नागरिकों से राय मांगकर कार्रवाई करने की बात कही। उसी जवाब में उन्होंने स्काई योजना के तहत बांटे गये मोबाइल को भी जोड़ दिया। मुख्यमंत्री ने कहा कि स्काई योजना का भी भी हजारों मोबाइल बचा हुआ है उसका भी क्या करें , ये बतायें। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने कहा कि …

“इतना पैसा खर्च कर स्काई वाक तो खड़ा हो गया है, इसका किया क्या जाये, इसके बारे में जनता, इंजीनियर, आर्किटेक्चर, अधिकारी से हम जानना चाहते हैं कि आखिर इसका क्या करें..और स्काई योजना का भी भी बतायें, उसके भी लाखों मोबाइल पड़े हैं… ये दो चीज स्काई योजना और स्काई वाक का क्या करना है, ये बतायें”

आपको बता दें कि रमन सरकार ने 50 लाख लोगों को स्मार्ट फोन बांटने की स्काई योजना बनायी थी, जिसकी कुल लागत 567 करोड़ रुपये थी। हालांकि ये योजना पूरी तरह फेल रही, और फोन में कई तरह की शिकायतें बांटने के साथ ही आने लगी।

वहीं स्काई वाक की योजना करीब 90 करोड़ रुपये की थी, इस योजना का शुरू से ही कांग्रेस विरोध कर रही थी। लेकिन चंद लोगों को फायदा देने के लिए भाजपा सरकार ने स्काई वाक को शहर में बनवा डाला, जिसका कोई फायदा होता नहीं दिख रहा है।

Get real time updates directly on you device, subscribe now.