शाबाश रायगढ़ पुलिस : रिकार्ड 4 दिन में रेप केस की चार्जशीट कर दी फाइल…FIR के 2 घंटे के भीतर किया था आरोपी को गिरफ्तार….एसपी संतोष कुमार सिंह ने पुलिस टीम को दी बधाई, कहा- महिला अपराध पर संवेदना और संजीदगी के साथ-साथ सक्रियता पूर्वक काम करने की जरूरत

रिकार्ड चार दिनों में रेप केस की चार्जशीट फाईल की पूंजीपथरा पुलिस…

● प्रदेश में पास्को एक्ट में महज 4 दिन के भीतर चालान पेश करने का पहला मामला..

● पूंजीपथरा पुलिस द्वारा पास्को एक्ट के मामले में की गई त्वरित कार्यवाही…

● अपराध दर्ज के दो घंटे बाद ही बालिका की दस्तयाब और आरोपी की गिरफ्तारी…

● इसके पूर्व रेप केस में जूटमिल पुलिस पांच दिनों में की थी चार्ज शीट फाईल…

रायगढ़ 3 नवंबर 2020। रेप पीड़िता नाबालिग को इंसाफ दिलाने में रायगढ़ पुलिस ने मिसाल कायम किया है। रायगढ की पूंजीपथरा पुलिस ने महज चार दिन में रेप के आरोपियों के खिलाफ चार्जशीट फाइल कर दिया है। पास्को एक्ट में ये छत्तीसगढ़ की सबसे तेज चार्जशीट दाखिल कीगयी है। इससे पहले माह सितम्बर 2020 में पुलिस चौकी जूटमिल क्षेत्रान्तर्गत नाबालिग से दुष्कर्म मामले में पुलिस चौकी जूटमिल ने पांच दिनों के भीतर आरोपी को गिरफ्तार कर चालान न्यायालय प्रस्तुत किया गया था।

पूंजीपथरा पुलिस की इस कार्रवाई पर एसपी संतोष कुमार ने पुलिस टीम को बधाई दी है और महिला अपराध पर  संवेदना और संजीदगी के साथ सक्रियता पूर्वक काम करने के निर्देश पुलिस टीम को दिया है। उन्होंने उनके द्वारा इसी गति से पीड़िता को जिला विधिक सेवा प्राधिकरण से मुआवजा राशि दिलाने में कार्यवाही करने का निर्देश दिया है ।

दरअसल 30 अक्टूबर की दोपहर नाबालिग के परिजन थाना पूंजीपथरा में रिपोर्ट दर्ज करायी थी कि लड़की अचानक गायब हो गयी है। परिजनों ने पडोसी युवक गुड्डू कुमार पर बालिका को बहला फुसलाकर भगा ले जाने की शंका जतायी थी। घटना को लेकर थाना पूंजीपथरा में अज्ञात आरोपी के विरूद्ध अप.क्र. 214/2020 धारा 363 IPC का एफ.आई.आर. दर्ज के तुरंत बाद ही थाना प्रभारी टी.आई. मनीष नागर द्वारा अपने स्टाफ को गुम बालिका का फोटो व्हाटसएप कर सभी दिशाओं में पतासाजी के लिये टीम रवाना किया गया। इसी दौरान लड़की पूंजीपथरा गैस गोदाम के सामने बैठी मिली। लड़की ने बताया कि गुड्डू कुमार उसे लेकर गया था। जिस पर तत्काल कार्यवाही करते हुए आरोपी गुड्डू कुमार को गिरफ्तार किया गया तथा बालिका के कथन, मुलाहिजा पर से प्रकरण में धारा 376 IPC, 6 पाक्सो एक्ट जोड़ी गई ।

पुलिस अधीक्षक के निर्देश पर सीएसपी रायगढ़ अविनाश सिंह ने पूरे केस की मॉनिटरिंग की और महज चार दिनों में आरोपी गुड्डू कुमार पासवान को के खिलाफ सिर्फ चार दिन में 3 नवंबर को जिला एवं सत्र न्यायालय रायगढ़ में आरोपी के विरूद्ध अभियोग पत्र पेश किया गया है ।

एसपी रायगढ़ संतोष सिंह ने बताया कि रायगढ़ पुलिस दुष्कर्म मामलों में पीडिता को शीघ्र न्याय दिलाने के लिये प्रतिबद्ध है, उन्होंने बताया कि देश में नाबालिगों के मामलों में पीडितों को जल्द न्याय दिलाए जाने के लिए उद्देश्य से फास्ट ट्रैक कोर्ट का गठन किया गया है । ऐसे में हमारी जवाबदेही बढ़ जाती है कि ऐसे मामलों में पुलिस की कार्यवाही किसी भी स्तर में धीमे न पड़े और इन मामलों में ऐसे साक्ष्य न्यायाल पेश किये जावें जिससे आरोपियों को सख्त से सख्त सजा मिले ।

Spread the love