सेक्स रैकेट : WhatsApp व वेबसाइट से चल रहा था सेक्स रैकेट…. विदेशी सहित नौ युवतियों समेत 20 गिरफ्तार …. जिस्मफरोशी का ये तरीका जानकर होश उड़े गये पुलिस के…

लखनऊ 14 सितंबर 2020। कोरोना संकट में भी जिस्म का कारोबार खूब चल रहा है। कानपुर में ऑनलाइन सेक्स रैकेट का खुलासा हुआ है। नौबस्ता पुलिस ने साइबर सेल की मदद से वेबसाइट और व्हाट्सएप की मदद से चलने वाले सेक्स रैकेट का भंडाफोड़ किया है। पुलिस ने नेपाल, यूपी, असम, मध्यप्रदेश, कोलकाता आदि राज्यों की नौ युवतियों को शहर में अलग-अलग स्थानों से पकड़ा। इसके अलावा दलाल और ग्राहकों समेत 11 युवक भी गिरफ्तार किए गए। पुलिस के अनुसार वेबसाइट की मदद से अंतरराष्ट्रीय स्तर पर सेक्स रैकेट चल रहा है। वेबसाइट हैंडल करने वाले आईटी एक्सपर्ट की तलाश में साइबर सेल को लगाया गया है।

चकेरी में अपार्टमेंट में पकड़े गए सेक्स रैकेट के बाद एक बाद फिर ट्विटर पर मिली कंप्लेन के बाद पुलिस ने नौबस्ता में भी एक ऑनलाइन सेक्स रैकेट का भंडाफोड़ किया। इस दौरान पुलिस ने कानपुर और बाहर से आई 9 लड़कियों और ब्रोकर, कस्टमर समेत 20 लोगों को गिरफ्तार किया। पुलिस पकड़े गए लोगों से पूछताछ कर पता लगाने की कोशिश कर रही है कि रैकेट के तार कहां तक पहले हैं।कानपुर पुलिस के ऑफिशियल ट्विटर हैंडल पर नौबस्ता में सेक्स रैकेट चलाए जाने की शिकायत मिली थी। जिसके बाद एसपी क्राइम,सीओ गोविंद नगर और नौबस्ता थाने के एसएचओ को खुलासे के लिए लगाया गया था। सर्विलांस सेल की मदद ने पुलिस ने शिकायत के साथ भेजे गए स्क्रीन शॉट में दिए गए नंबर पर संपर्क किया। जिसके बाद आशीष नाम का ब्रोकर पुलिस की पकड़ में आया। आशीष ने पूछताछ में लड़कियों लाने में राजू उर्फ इरान और कल्पना गुप्ता नाम की महिला की भूमिका बताई। जिसके बाद पुलिस ने छापेमारी करके पूरे रैकेट को पकड़ा।

पुलिस ने बताया कि ये लोग ऑनलाइन वेबसाइट फोटो कॉलगर्ल में कानपुर स्कॉट सर्विस पर एड डालते थे. जो भी ग्राहक उस एड में दिए गए नंबर पर कॉल या मैसेज करता था, उसे व्हाटसअप पर फ़ोटो भेज कर लड़कियां पसंद करवाते थे. शिकायत मिलने के बाद क्राइम ब्रांच और थाने की टीम को इसके खुलासे के लिए लगाया गया था. एसपी साउथ ने बताया कि ये लोग बाहर से भी लड़कियों को बुलाते थे. ज्यादातर लड़कियां कानपुर और आसपास के क्षेत्र की हैं. आज जो कॉलगर्ल पकड़ी गई है, उनमें से दो दिल्ली, एक असम और एक फैज़ाबाद की है. पुलिस पकड़े गए लोगों से और पूछताछ कर रही है, साथ ही साथ इस तरह की जो वेबसाइटों की भी डिटेल निकाल कर उनके ऊपर भी कार्रवाई करने की बात कह रही है.

 

Get real time updates directly on you device, subscribe now.