SECL को दोहरा सम्मान, बेस्ट CSR वर्क के लिए मेकिंग ऑफ डेवलॉप इंडिया अवार्ड, 2018 का ग्लोबल HR एक्सीलेंस अवार्ड भी मिला

 रायपुर 19 फरवरी 2018।एसईसीएल के लिए ये फरवरी महीना यादगार बन गया है। कॉरपोरेट सेक्टर के दो बेहतरीन अवार्ड एसईसीएल की झोली में गया है। इसी महीने की 17 तारीफ को एसईसीएल को मेकिंग आफ डेवलप इंडिया अवार्ड मिला था.. जबकि उससे पहले 15 फरवरी को बेस्ट एक्सीलेंस अवार्ड का सम्मान भी एसईसीएल की झोली में ही गया था।
अपने उत्कृष्ठ कार्यशैली एवं समाजोन्नति के लिए निरंतर क्रियाशील एवं एसईसीएल के कार्यों को राष्ट्रीय स्तर पर इस तरह का सम्मान मिला है। 15 फरवरी को ताज लैण्ड्स एण्ड मुम्बई में ’’बेस्ट एचआर आर्गनाईजेशन टू वर्क फार’’ श्रेणी में ग्लोबल एचआर एक्सिलेंस अवार्ड 2018’’से एसईसीएल को ये अवार्ड दिया गया।
लेकिन इस सम्मान के साथ 17 फरवरी को एसईसीएल के नाम एक और सम्मान जुड़ गया। 17 फरवरी ’’बेस्ट कारपोेरेट सोशल रेस्पांसिबिलिटी प्रेक्टिसेस‘‘ श्रेणी में भी एसईसीएल को ‘‘मेकिंग आफ डेव्हलप्ड इण्डिया अवार्ड‘‘ से सम्मानित किया गया।
एसईसीएल का इतिहास बेहद ही स्वर्णिम रहा है। नये कीर्तिमानों के बीच कोयला उत्पादन के साथ ही समाजोन्नयन के कार्यों में भी एसईसीएल का विशेष योगदान रहा है। एसईसीएल यह कार्य सीएसआर मद से होता है। गत वर्षाें में एसईसीएल ने इस दिशा में कई अहम पहल किए,  जैसे स्वच्छ भारत अभियान के तहत सरकारी स्कूलों में 11500 से अधिक शौचालयों का निर्माण, हरिहर छत्तीसगढ में योगदान, शहडोल-उमरिया-अनूपपुर जिले में 2 हजार युवाओं को स्कील डेव्हलमेंट, दिव्यांगों को मोटराईज्ड बैटरी आपरेटेड ट्राई साइकिलका वितरण आदि जैसे कार्यो को सम्पन्न कर एसईसीएल ने समाज हित में अपनी सहभगिता निभाई है। स्वच्छ पेयजल की व्यवस्था, शिक्षा की सुविधाऐं, चिकित्सा शिविर, आधारभूत सुविधाओं जैसे सड़के आदि के निर्माण में भी इसईसीएल की सहभागिता रही है। एसईसीएल द्वारा सम्पन्न इन सभी कार्यो को राष्ट्रीय स्तर पर सराहा जा रहा है।

Get real time updates directly on you device, subscribe now.