कलेक्टर के खिलाफ SDM पत्नी और बच्चे के साथ धरने पर बैठे….. नाराज मुख्यमंत्री ने सस्पेंड करने का दिया निर्देश…. अब हो सकती है अफसर के खिलाफ बड़ी कार्रवाई

लखनऊ 25 सितंबर 2020। कलेक्टर पर भ्रष्टाचार का आरोप लगाने वाले उत्तर प्रदेश के प्रतापगढ़ जिले के एसडीएम विनीत उपाध्याय को सस्पेंड कर दिया गया है. उन पर अनुशासनहीनता के कारण निलंबन की यह कार्रवाई की गई है. फिलहाल इस पूरे प्रकरण की जांच की जिम्मेदारी इलाहाबाद कमिश्नर को दी गई है. एसडीएम विनीत उपाध्याय प्रकरण की जांच अब इलाहाबाद कमिश्नर करेंगे. कमिश्नर जांच कर अपनी रिपोर्ट शासन को सौंपेंगे.

दरअसल पिछले कई दिनों से शीर्ष प्रशासनिक व पुलिस अधिकारियों पर भ्रष्टाचार के आरोपों की बाढ़ सी आ गई है। ताजा मामला यूपी प्रतापगढ़ का है, जहां के कलेक्टर डॉ रूपेश कुमार के साथ ही दो एसडीएम पर गंभीर आरोप लगाकर एक अतिरिक्त एसडीएम अपनी पत्नी के साथ डीएम के सरकारी बंगले में धरने पर बैठे। प्रतापगढ़ में शुक्रवार को जिलाधिकारी और दो एसडीएम के खिलाफ अतिरिक्त एसडीएम विनीत कुमार उपाध्याय का धरना करीब चार घंटा बाद समाप्त हो गया। उनको डीएम से पट्टा आवंटन में घपले पर कार्रवाई का आश्वासन मिला है। हालांकि शाम को शासन ने पीसीएस अफसर उप जिलाधिकारी विनीत कुमार उपाध्याय के खिलाफ अनुशासनात्मक कार्रवाई करते हुए निलंबित कर दिया।

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ प्रतापगढ़ के डीएम और एडीएम पर भ्रष्टाचार का आरोप लगाकर धरने पर बैठने वाले एसडीएम विनीत उपाध्याय से खासे नाराज हैं. सूत्रों के अनुसार विनीत उपाध्याय पर बड़ी कार्रवाई हो सकती है. इससे पहले आज शुक्रवार को दिन में SDM उपाध्याय को धरने से उठाने के लिए डीएम ने पुलिस फोर्स बुलाई थी. सीओ समेत भारी पुलिस बल डीएम आवास के अंदर मौजूद रहे और काफी देर तक हाई वोल्टेज ड्रामा होता रहा.

इससे पहले प्रतापगढ़ में पत्नी के साथ डीएम आवास में एक एसडीएम के धरने पर बैठने से ब्यूरोक्रेसी में हड़कंप मच गया. धरने पर बैठे एसडीएम विनीत उपाध्याय का आरोप है कि स्कूल की सही रिपोर्ट लगाने के लिए उन पर दबाव बनाया गया था. बताया जा रहा है कि जिले के लालगंज इलाके में संचालित स्कूल की एक रिपोर्ट को लेकर अफसरों ने उन पर दबाव बनाया था.

इसके अलावा धरने पर बैठे एसडीएम ने प्रतापगढ़ के डीएम रूपेश कुमार पर भी गंभीर आरोप लगाए हैं. पीसीएस अधिकारी विनीत उपाध्याय ईमानदार छवि के अधिकारी माने जाते हैं. इस घटना के बाद जिलाधिकारी आवास की सुरक्षा कड़ी कर दी गई है. मौके से जो तस्वीर सामने आई है उसमें पीसीएस अधिकारी विनीत उपाध्याय जमीन पर बैठे नजर आ रहे हैं.

Get real time updates directly on you device, subscribe now.