स्कूल खुलेंगे : राज्य सरकार ने किया बड़ा ऐलान, बिहार में 4 जनवरी से खुलेंगे सभी स्कूल…..बच्चों को मुफ्त में दिये जायेंगे 2 मास्क… देखिये क्या होगी गाइडलाइन

पटना 18 दिसंबर 2020। राज्यभर के स्कूल, कॉलेज और कोचिंग संस्थान चार जनवरी से चरणवार खुलेंगे। सरकार ने अपने आदेश में कहा है कि सभी स्कूलों के सीनियर सेक्शन खुलेंगे. साथ ही होस्टल को भी खोलने का आदेश दिया गया है. राज्य में स्कूलों को खोलने (Bihar School Reopen latest date) को लेकर जारी आदेश में कहा गया है कि सरकार सभी स्कूलों के लिए मुफ्त में मास्क देगी. पहले चरण में स्कूलों में नौवीं से 12वीं तथा कॉलेजों में अंतिम वर्ष की कक्षाएं चलेंगी। कोचिंग संस्थान भी खुलेंगे। इसके लिए कोरोना काल के निर्धारित नियमों का पालन अनिवार्य होगा। मुख्य सचिव दीपक कुमार की अध्यक्षता में शुक्रवार को हुई आपदा प्रबंधन समूह की बैठक में यह निर्णय लिया गया।

बैठक के बाद मुख्य सचिव ने साफ कहा कि स्कूल-कॉलेज प्रशासन की यह जिम्मेदारी होगी कि वह कक्षा और परिसर में मास्क का उपयोग और सोशल डिस्टेंसिंग का पालन सुनिश्चित कराएं। 18 जनवरी से नौंवी से निचले स्तर की कक्षाएं खुलेंगी, लेकिन इसके पहले सरकार समीक्षा करेगी कि जो कक्षाएं चार जनवरी से चलायी जा रही हैं, वहां किसी प्रकार की कोई दिक्कत तो नहीं है। 11 जनवरी के आस-पास इसकी समीक्षा की जाएगी। कक्षा संचालन पर हमलोग सजग और सतर्क रहेंगे, क्योंकि अभी यह कहना मुश्किल है कि कोरोना संक्रमण का आगे क्या रूख हो सकता है। इसकी निरंतर समीक्षा की जाएगी।

मुख्य सचिव ने बताया कि स्कूल, कॉलेज और कोचिंग संस्थानों को मास्क के उपयोग और सामाजिक दूरी के नियमों के पालन कराना अनिवार्य होगा। शिक्षा विभाग द्वारा विद्यार्थियों को दो-दो मास्क मुफ्त में बांटे जाएंगे। ऐसे में स्कूल, कॉलेज और कोचिंग संस्थानों को तय करना होगा कि विद्यार्थी जरुर मास्क पहन क्लास में पढ़ने आएं। इस दौरान छात्रों को फिजिकल डिस्टेंसिंग के नियम का कड़ाई से पालन जरूर करना है।गौरतलब है कि इस शिक्षा सत्र का अधिकतर समय बीते चुका है लेकिन स्कूल नहीं खुले हैं। इस कारण पढ़ाई भी काफी प्रभावित हुई है। परीक्षाओं का आगामी सत्र जल्द ही शुरू होने वाला है। कक्षा एक से नौ तक की बीते साल की परीक्षाएं भी नहीं हो सकी हैं। कक्षा एक से 8 तक के स्कूल बंद हैं। यही नहीं, उच्च कक्षाओं के सिलेबस को पूरा कराने की चुनौती भी है। हालांकि सिलेबस में कुछ कमी भी की जा रही है और ऑनलाइन क्लास के जरिए सिलेबस को जल्द से जल्द पूरा करने का प्रयास किया जा रहा है।

Spread the love