इस राज्य में 7 जनवरी से खुल रहे हैं स्कूल-कॉलेज, इन गाइडलाइन का करना होगा पालन

नईदिल्ली 6 जनवरी 2021. देश में कोरोना वायरस के मामले कम होने के बाद से देशभर में स्कूल-कॉलेज धीरे-धीरे खुलने लगे हैं. कई राज्यों ने पहली जनवरी से ही अपने यहां स्कूल खोल दिये हैं, तो कई राज्यों ने पिछले साल दिसंबर में ही खोल दिये हैं. अब पंजाब (school reopening in punjab) से भी खबर आ रही है कि वहां भी कोरोना मामले में कमी आने के बाद 7 जनवरी से स्कूल-कॉलेज खोल दिये जाएंगे.

5 वीं से 12वीं के छात्रों के लिए खुल रहे हैं स्कूल

पंजाब की कैप्टन अमरिंदर सिंह सरकार ने बुधवार को कक्षा पांच से 12वीं तक के छात्रों के लिये सभी विद्यालयों को सात जनवरी से खोलने का फैसला लिया.

अभिभावकों की मांग पर खुल रहे हैं स्कूल

मालूम हो राज्य में अभिभावकों ने सरकार से स्कूल खोले जाने की मांग की थी, जिसके बाद यह फैसला लिया गया है. पंजाब के शिक्षा मंत्री विजय इंदर सिंगला ने बताया, अभिभावकों की मांग पर राज्य सरकार ने सभी सरकारी, अर्धसरकारी और निजी स्कूलों को सात जनवरी से खोलने का फैसला लिया है. मंत्री ने कहा कि सिर्फ कक्षा 5 से 12 तक के छात्रों को स्कूलों में आकर पढ़ाई की अनुमति होगी.

स्कूल खुलने का समय

पंजाब में 7 जनवरी से जब स्कूल-कॉलेज खोले जाएंगे, तो समय क्या होगा ? इसको लेकर भी कैप्टन अमरिंदर सिंह सरकार ने साफ कर दिया है. शिक्षा मंत्री ने बताया, स्कूल खुलने का समय सुबह 10 बजे से 3 बजे तक रहेगा.

कोरोना गाइडलाइन का करना होगा सख्ती से पालन

पंजाब के शिक्षा मंत्री विजय इंदर सिंगला ने बताया कि सभी स्कूलों के प्रबंधन को परिसर में कोरोना वायरस के दिशा निर्देशों के सख्ती से पालन के निर्देश दिये गये हैं.

क्या है कोरोना गाइडलाइन

मालूम हो केंद्र सरकार ने स्कूल-कॉलेज खोले जाने को लेकर कुछ गाइडलाइन जारी किया है, जिसमें कहा गया है कि सभी स्कूलों को क्लास शुरू होने से पहले अच्छी तरह से सेनेटाइज किया जाएगा. साथ ही स्कूल कैंपस में इंट्री गेट पर थर्मल स्कैनर, सेनेटाइजर की व्यवस्था होगी.

क्साल में छात्रों के बीच कम से कम 6 फीट की दूरी अनिवार्य होगी. शिक्षकों को भी छात्रों के साथ और स्कूली स्टाफ के बीच सामाजिक दूरी का पालन करना होगा. इसके अलावा सभी को स्कूल कैंपस में मास्क पहनना अनिवार्य होगा. स्कूल में छात्रों को लंच बॉक्स शेयर करने पर पाबंदी होगी. स्कूल में वैसे कोई भी कार्यक्रम पर पाबंदी होगी, जिसमें अधिक भिड़ होती है.

Spread the love