रेत माफियाओं की फिर गुंडागर्दी: आधी रात जिला पंचायत सदस्य को बेदम पीटा…अवैध रेत खनन को रोकने टीम के साथ पहुँचे थे खदान…..हाल के दिनों घटी ऐसी दूसरी वारदात

धमतरी 17 सितंबर 2020।  जिले में रेत ठेकेदार और उनके गुर्गों के हौसले बुलंद होते जा रहे है। खुलेआम रेत खनन करना, उसे खपाना और जो इस करतूत के खिलाफ आवाज उठाये उसे मार-मारकर अधमरा कर देना, आम बात हो गयी है। पिछले दिनों रेत माफिया की एक जिला पंचायत सदस्य पर जानलेवा हमले का मामला अभी शांत भी नहीं हुआ था कि  कुरूद थाना इलाके के गाड़ाडीह रेत खदान में एक और जिला पंचायत सदस्य से मारपीट की घटना सामने आ गयी है। जानकारी के मुताबिक बीती रात सत्ता पक्ष के जिला पंचायत सदस्य गोविंद साहू के साथ रेत माफियाओं ने बेरहमी से मारपीट की है।

सत्ता पक्ष के जनप्रतिनिधि के साथ मारपीट की इस घटना के बाद इलाके में सनसनी फैल गयी है। बताया जा रहा है कि जिला पंचायत में बैठक बाद सर्वसम्मति से निर्णय हुआ कि जिले में जहाँ जहाँ अवैध रूप से रेत खदान संचालित है…उस पर कार्यवाही हेतु जिला पंचायत के मेंबर्स द्वारा दौरा किया जा रहा है… और जिसके चलते अवैध रेत का परिवहन करने वाले लोगों के ऊपर कार्यवाही भी हुई है…बीते शाम जिला पंचायत के मेंबर्स जिले के कपालपोड़ी, डमकाडीह और परेवाडीह रेत खदान का निरीक्षण कर बीते रात्रि लगभग 12 बजे कुरूद इलाके के गाड़ाडीह पहुँचे।

जिला पंचायत मेम्बर्स को शिकायत मिली थी कि कुरूद इलाके के गाड़ाडीह में रेत का अवैध खनन हो रहा है, जिसके बाद जिला पंचायत सदस्य टीम के साथ मौके पर पहुँच गए , तभी वहां पर मौजूद रेत माफिया और गुर्गों ने जिला पंचायत सदस्य के ऊपर जानलेवा हमला करते हुए बेरहमी से पिटाई कर दी…उनके साथ गए लोग जब वहां पर पहुँचे तो माफिया वहाँ से भाग निकले…बताया गया कि रेत ठेकेदारों के समूह में महिला भी थी…इधर जनप्रतिनिधियों पर लगातार हो रहे प्राणघातक हमले से इलाके में सनसनी फैल गयी है …साथ ही लोग इस घटने की कड़ी निंदा कर रहे है।

जिला पंचायत सदस्य ने गोविंद साहू ने बताया कि

जिला पंचायत के बैठक में हुए फैसले के बाद अवैध रेत खनन की शिकायत मिलने पर टीम के साथ गाड़ाडीह रेत खदान पर पहुँचे थे …जहाँ अवैध रूप से रेत का खनन कर रहे रेत माफिया और उनके गुर्गों ने पहले मुझे खींचते हुए ले गए,गालीगलौच किया फिर डंडे से मेरी बेरहमी से पिटाई कि जिससे मैं बुरी तरह घायल हो गया ,मेरे अन्य साथी वहाँ पहुँचे तब रेत माफिया वहां से भाग निकले ,जिसकी शिकायत हमारे द्वारा थाने में और खनिज विभाग कर दी गयी है…बोले दोषियों के ऊपर सख्त से सख्त कार्यवाही हो …ऐसे अवैध रेत खनन को रोकने हमारा प्रयास लगातार जारी रहेगा…

खनिज अधिकारी सनत साहू ने कहा कि…

मामला की जानकारी मिली , स्टॉफ मौके पर गयी थी..मारपीट जैसे कोई घटनाएं नहीं हुई है हमारा टीम उसके साथ था…वो उनका निजी जमीन है , हो सकता है वहाँ पर चौकीदार घुसने से मना किया होगा तो धक्का मुक्की हुई होगी…

जिले में जिला पंचायत सदस्य के साथ मारपीट की दूसरी घटना

बीते कुछ माह पहले भी रेत माफियाओं ने एक अन्य जिला पंचायत सदस्य खूबलाल ध्रुव के साथ मारपीट किया था…जिसमें पुलिस ने आरोपियों के खिलाफ सख्त कार्यवाही कर गिरिफ्तार किया था… और यह मामला विधान सभा में भी उठा था..

Get real time updates directly on you device, subscribe now.