धान पर बवाल : भाजपा का सदन से सड़क तक प्रदर्शन का ऐलान…. 22 फरवरी को हर जिले में प्रदर्शन, फिर सदन में उठायेंगे मुद्दा…..राज्यपाल से मुलाकात के बाद पूर्व मुख्यमंत्री बोले- प्रदेश में अराजकता की स्थिति, हर जगह किसान परेशान…15 दिन बढ़ायें तारीख

रायपुर 20 फरवरी 2020। धान खरीदी आज तो खत्म हो जायेगी…लेकिन धान से जुड़ी सियासत अभी लंबी चलेगी। भाजपा ने धान खरीदी को लेकर सरकार के खिलाफ मोर्चा खोल दिया है। भाजपा 22 फरवरी को इस मामले में जिलास्तरीय प्रदर्शन करने जा रही है। राज्यपाल से मुलाकात के बाद पूर्व मुख्यमंत्री रमन सिंह और प्रदेश अध्यक्ष विक्रम उसेंडी ने प्रेस कांफ्रेंस कर राज्य सरकार के खिलाफ प्रदर्शन का ऐलान किया। पूर्व मुख्यमंत्री ने कहा कि इस मामले को भाजपा विधानसभा में भी उठायेगी।

इससे पहले पूर्व मुख्यमंत्री रमन सिंह, राज्यसभा सांसद सरोज पांडेय जैसे दिग्गज नेताओं की अगुवाई में भाजपा का एक प्रतिनिधिमंडल राज्यपाल से मिला और अपनी बातें रखी। मुलाकात के बाद प्रेस कांफ्रेंस कर पूर्व मुख्यमंत्री ने कहा कि राज्य में अरजकता की स्थिति है और प्रदेश में निर्णय के लिए ना तो मुख्यमंत्री और ना ही मुख्य सचिव मौजूद हैं। मुख्यमंत्री ने राज्यपाल को बताया कि धान बेचने के लिए किसान परेशान हो रहे हैं, उन पर लाठी चार्ज हो रहा है। राज्यपाल से मुलाकात के दौरान भाजपा ने धान खरीदी की तारीख 15 दिन बढ़ाने, सभी किसान की धान की खरीदी करने जैसी बातें रखी। वहीं लाठी चार्ज की जांच की भी मांग पूर्व मुख्यमंत्री ने की है।

प्रेस कांफ्रेंस में भाजपा ने बताया कि किसानों को चौथा टोकन जारी नहीं किया गया है, कई जगहों पर धान खरीदी पूरी तरह से ठप हो गयी है। 32 लाख किसानों में से सिर्फ 25 लाख किसानों से ही धान खरीदा गया है।

Spread the love