विवाहित प्रेमिका की बेवफ़ाई का बदला लेने प्रेमिका के आठ वर्षीय पुत्र की पानी में डूबा डूबा कर हत्या.. आरोपी प्रेमी समेत तीन गिरफ़्तार

खोंगापानी,16 नवंबर 2020। विवाहित प्रेमिका के द्वारा प्रेम संबंध समाप्त कर वापस ससुराल जाने के फ़ैसले से नाराज प्रेमी ने प्रेमिका के आठ वर्षीय पूत्र की पानी में डूबो कर हत्या कर दी। हत्या में आरोपी युवक ने आठ वर्षीय मृतक बच्चे के करीब 12 वर्षीय चचेरे भाई को भी शामिल किया था। मामले में आरोपी प्रेमी समेत तीन नाबालिग़ों को गिरफ़्तार किया गया है।
मामला खोंगापानी का है, जहां आरोपी बबलू यादव और लीलावती नामक विवाहित महिला के बीच प्रेम संबंध था। लीलावती कुछ दिनों तक बबलू के साथ रहने के बाद वापस मायके आ गई थी और वापस ससुराल जाने का फ़ैसला कर गई थी। प्रेमिका के वापस ससुराल जाने के फ़ैसले और प्रेम संबंधों को समाप्त करने के निर्णय से नाराज प्रेमी बबलू ने प्रेमिका के आठ वर्षीय पूत्र ऋषि की हत्या की योजना बनाई और ऋषि के बारह वर्षीय भाई के ज़रिए ऋषि को बुला कर ईंट भट्टे के पास ले जाकर पानी में डूबो कर बेरहमी से मार दिया। इस हत्या के बाद आरोपी बबलू ने शव को गाड़ा। और बाद में शव को दूसरी जगह गाड़ दिया। शव को दूसरी जगह दफ़नाने में आरोपी बबलू ने फिर दो नाबालिगों का इस्तेमाल किया। शातिर बबलू को यह आशंका थी कि, हत्या में सहयोग देने वाला मृतक ऋषि का बारह वर्षीय भाई राज खोल देगा और शव बरामद करा देगा, इसलिए आरोपी बबलू ने शव की जगह बदल दी और जिस पहली जगह मासूम ऋषि का शव दफ़नाया था वहाँ सुअर मार कर फेंक दिया था।
खोंगापानी पुलिस थाना प्रभारी विजय सिंह ने बताया –

“बच्चे की गुमशुदगी की रिपोर्ट दर्ज हुई थी,पतासाजी के दौरान यह तथ्य सामने आया कि मृतक बच्चे की माँ से आरोपी का प्रेम संबंध था और हालिया दिनों वह प्रेमी से संबंध ख़त्म कर के वापस पति और ससुराल के पास जाने वाली थी, जिससे आरोपी बबलू यादव क्षुब्ध था, आरोपी ने घटना को तीन नाबालिगों के साथ अंजाम दिया, सभी को हिरासत में लिया गया है”

खोंगापानी पुलिस ने आरोपी बबलू की निशानदेही पर शव को बरामद कर धारा 366,302,120बी,201 और34 के तहत अपराध दर्ज कर आरोपी बबलू यादव समेत तीनों नाबालिगों को गिरफ़्तार कर लिया है।

Spread the love