रायगढ़ पुलिस ने 13 लाख की लूट का 48 घंटों में किया खुलासा…… आरोपी निकला नगर पंचायत अध्यक्ष और पुत्र…. मामले में तीन की गिरफ्तारी

रायगढ़,5 दिसंबर 2019। बीते तीन दिसंबर को खरसिया स्टेट बैंक के पास से तेरह लाख की लूट की वारदात को 48 घंटों में सुलझाते हुए मामले में शामिल सभी आरोपियों को गिरफ़्तार कर लिया है। पुलिस का दावा है कि लूट की योजना बना कर उसे क्रियान्वित कराने वाला नगर पंचायत अड़भार का अध्यक्ष कार्तिक राम रात्रे है। कार्तिक राम रात्रे ने यह घटना अपने लड़के विक्रम और विक्रम के साले चित्रसेन सतनामी से कराई थी।

वाट्सएप पर अपडेट पाने के लिए कृपया क्लीक करे

पुलिस के अनुसार कन्हैया राठौड़ ठेकेदार है जिसने सेल्फ चेक अपने सहयोगी अगतराम रात्रे को दिया था। अगतराम रात्रे आरोपी नगर पंचायत अध्यक्ष कार्तिक का भाई है। अगतराम चेक को कैश कराने बैंक गया तो उसके साथ कार्तिक और विकास देवांगन भी गए। बैंक से रक़म लेने के बाद जैसे ही कार्तिक और अगतराम बाहर आए तो बाईक सवार दो नक़ाबपोश रक़म का बैग लूटकर भाग गए।

पुलिस ने रिपोर्ट दर्ज कराने के बाद सीसीटीवी फ़ुटेज चेक किए तो बाईक सवार दिख गए। बाईक सवारों का फूटेज अगतराम को दिखाया गया तो उसने बाईक सवार की पहचान भतीजे कार्तिक के रुप में की।पुलिस ने इसके बाद विक्रम को पकड़ा और उससे पूछताछ के बाद उसके पिता और साले को भी गिरफ़्तार कर लिया गया।
कप्तान संतोष सिंह ने NPG को बताया

“ घटना में नगर पंचायत अड़भार का अध्यक्ष कार्तिकराम मुख्य साज़िशकर्ता है, घटना को उसके पूत्र विक्रम और विक्रम के साले चित्रसेन ने अंजाम दिया था। प्रार्थी अगतराम पूरे षड़यंत्र से अंजान था। हमने सभी आरोपियों को गिरफ़्तार कर लिया है और रक़म भी बरामद कर ली है”

Get real time updates directly on you device, subscribe now.