क्वींस क्लब फ़ायरिंग मामला : पुलिस के तेवर सख़्त, पुलिस कप्तान अजय यादव बोले “क़ानून से बड़ा कोई नही.. FIR हुई है.. गिरफ़्तार भी करेंगे”

रायपुर,28 सितंबर 2020। लॉकडाउन के दौरान क्वींस क्लब में बर्थ डे पार्टी और फिर पार्किंग में हुए विवाद के बाद फ़ायरिंग के मामले में राजधानी पुलिस ने बैक टू बैक दो FIR दर्ज की है। एक FIR 341/2020 और एक FIR 342/2020 तेलीबांधा थाने में दर्ज की गई है। पहली एफआईआर में आरोपी हितेश पटेल है जिसके विरुद्ध आफ़ताब कुरैशी प्रार्थी है,इसमें धारा 307 लगाई गई है जबकि दूसरी FIR क्विंस क्लब के स्टाफ़ और संचालकों के विरुद्ध महामारी अधिनियम समेत 188,269,270 की धाराएँ प्रभावी हैं।इस एफआईआर को ड्यूटी पर तैनात प्रधान आरक्षक रामकृष्ण वर्मा की ओर से क़ायम किया गया है। दोनों ही एफआईआर में कुल पाँच आरोपियों की गिरफ़्तारी हुई है।

कल देर शाम जबकि राजधानी का सबसे पॉश और संवेदनशील इलाक़े व्हीआईपी रोड में गोली चली तो हंगामा मंच गया। लॉकडाउन का नागरिक पूरी तरह कड़ाई से पालन कर रहे हैं ऐसे में क्विंस क्लब में पार्टी और हवाई फ़ायरिंग ने पूरे प्रशासन को सकते में ला दिया।
रात को ही सक्रिय हुई पुलिस ने दबिश देकर मौक़े से गिरफ़्तारी की कार्यवाही शुरु कर दी।

सीएसपी नसर सिद्दीक़ी और सहयोगी स्टाफ़ ने हवाई फ़ायर करने वाले हितेश पटेल को और कुछ ही देर में होटल में मौजुद संचालक और प्रमुख कर्मचारियों को राउंड अप कर लिया।
पुलिस ने क्वींस क्लब के लॉकडाउन में पार्टी करने और क्लब खुला रखने के मामले में कुल 14 लोगों को आरोपी बनाया है। इनमें हर्षित सिंघानिया, सूरज शर्मा, संस्कार पांडेय करन सोनवानी, अभिजीत कौर निरंकारी ट्विंकल सिंह अमित धवल, मीनल,राजवीर सिंह,हितेश पटेल के नाम शामिल हैं।
कप्तान अजय यादव ने NPG से कहा

“क़ानून से बड़ा कोई नही है.. FIR हुई है.. गिरफ़्तारी भी होगी.. और जो कार्यवाही है उसके लिए हम विचार कर रहे हैं”

संकेत है कि क्विंस क्लब को प्रशासन सीलबंद कर सकता है।

Get real time updates directly on you device, subscribe now.