प्यार की सजा : 25 युवकों ने इच्छा मृत्यु की मांगी इजाजत…. कलेक्टर को अर्जी देकर, जिल्लत भरी जिंदगी से उबारने की अपील की…..मुख्यमंत्री व नेता प्रतिपक्ष से लगायेंगे गुहार

दुर्ग 19 फरवरी 2020। जिला प्रशासन उस वक्त सकते में आ गया, जब 25 युवाओं ने सामूहिक आत्मदाह की इजाजत की अर्जी उनके पास रख दी। ये सभी समाज के सताये हुए युवक हैं, जिन्हें समाज मर्जी के शादी करने की सजा दे रहा है। कुर्मी समाज के इन युवकों को समाज के लोगों ने हुक्का पानी बंद कर रखा है। ना तो समाज में कोई पूछता है…ना कोई समारोह में बुलाता है और ना ही जनाजे में सम्मिलित करता है। इन युवकों ने अपने लिए सम्मानजनक जिंदगी जीने देने की गुहार लगायी है।

दरअसल जिन युवाओं ने आत्मदाह की अनुमति मांगी है, उन्होंने या तो अपनी पंसद से अंतरजातीय विवाह किया है या फिर प्रेम विवाह किया है। सभी को समाज के लोगों ने बिरादरी से बहिष्कृत कर दिया है। यहा तक की इनके मां-बाप से मिलने पर भी पाबंदी लगा दी गयी है।

युवकों ने इस मामले में प्रधानमंत्री कार्यालय में भी शिकायत की है। शिकायत करने जिला कलेक्टर के पास पहुंचे युवकों ने कहा है कि 22 फरवरी को समाजिक कार्यक्रम में प्रधानमंत्री और नेता प्रतिपक्ष भी आने वाले हैं। वहां भी वो अपनी बातों को रखेंगे।

Spread the love