पुलवामा शहीद की पत्नी सड़क किनारे बेच रही सब्जी…..शहीदों पर सियासत के बीच शर्मिंदा तस्वीर हुई वायरल….तो मुख्यमंत्री ने लिया संज्ञान… कलेक्टर को दिया निर्देश

रांची 15 फरवरी 2020। पुलवामा के शहादत पर कोई सियासत की रोटी सेंक रहा है तो कोई घड़ियाली आंसू बहा रहा है…लेकिन इन सब के बीच ना तो कोई शहादत की सुध ले रहा और ना ही शहादत की मान का कोई ख्याल कर रहा। खबर झारखंड के एक शहर सिमडेगा की है, जहां पुलवामा के शहीद की पत्नी सड़क किनारे सब्जी बेच रही है। शहीद की पत्नी की सब्जी बेचती हुई तस्वीर जब वायरल हुई तो अब मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन ने इस पर संज्ञान लिया है।

ये तस्वीर पुलवामा में शहीद विजय सोरेन की है। शहीद विजय सोरेंग की पत्‍नी विमला देवी की आर्थिक हालत इतनी खराब है कि वे सड़क पर सब्जियां बेच रही हैं। उनकी ये तस्वीर सोशल मीडिया पर जमकर वायरल हो रही है। ये तस्वीर पूरे देश और व्यवस्था को शर्मसार कर रही है।

विजय सोरेंग झारखंड के गुमला जिले के मायाटोली गांव के रहने वाले थे। जहां अब उनकी पत्‍नी विमला देवी अपने चार बच्‍चों के साथ रहती है। विमला की आर्थिक हालत इतनी खराब है कि वे सड़क पर सब्जियां बेच रही हैं। हालांकि उस वक्त शहीदों के परिवारों के लिए कई तरह के वादे किए गए थे।मुख्यमंत्री का निर्देश मिलते ही जिला प्रशासन ऐक्शन में आया और कुछ ही देर में डीसी सिमडेगा ने रिप्लाई किया, ‘सर जिला प्रशासन की ओर से शहीद के आश्रितों को हर संभव मदद देने की पहल की जा रही है। शुक्रवार सुबह ही अनुमंडल पदाधिकारी, सिमडेगा और प्रखंड विकास पदाधिकारी, सिमडेगा ने शहीद के आश्रितों के घर जाकर उनसे मुलाकात की और उनका हालचाल लिया।’
झारखंड के तत्कालीन मुख्यमंत्री रघुवर दास ने हमले के दो दिन बाद यानी 16 फरवरी 2019 को एक माह का वेतन देने का ऐलान किया था। उनके मंत्रियों ने भी यही बातें कही थीं। हालांकि रघुवर की सरकार चली गई और आर्थिक मदद एक साल बाद भी फाइलों में घूम रही है।

Spread the love