“प्रधानमंत्री मोदी और गृहमंत्री शाह में हो गया है मनमुटाव…इसलिए देश की जनता पीस रही है”….मुख्यमंत्री भूपेश बघेल का केंद्र पर बड़ा हमला, कहा- मोदी ने 5 साल में नोटबंदी-GST लाया…शाह ने 7-8 माह में CAAM NRC, NPR लाया… लगता है दोनों हिंदुस्तान के लोगों को अंग्रेजी सिखाने का कर रहे हैं काम… , DSP की गिरफ्तारी को लेकर पुलवामा पर भी उठाये सवाल, पूछा- क्यों नहीं हुई जांच….

रायपुर 17 जनवरी 2020। नगरीय निकाय के महापौर-सभापति, नगर पालिका अध्यक्ष व पार्षदों के सम्मान समारोह में मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने केंद्र सरकार और उनकी नीतियों पर जमकर हमला बोला। मुख्यमंत्री ने इस मौके पर CAA-NRC के मुद्दे प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और गृहमंत्री अमित शाह को निशाने पर लिया। उन्होंने कहा कि

“प्रधानमंत्री कहते हैं कि NRC देश में लागू नहीं होगा…गृहमंत्री कहते हैं कि /S क्रोमोलॉजी है, NRC पूरे देश में लागू होगा..सवाल ये उठता है कि सच कौन बोल रहा है गृहमंत्री जो बोल रहे हैं, वो सही या फिर प्रधानमंत्री जो बोल रहेहैं, वो सही ….हमको लगता है कि दोनों के बीच मनमुटाव हो गया है और इस मनमुटाव की वजह से देश की जनता पीस रही है”

मुख्यमंत्री पुलवामा अटैक को लेकर भी एक बार फिर सवाल उठाये। उन्होंने कहा कि ..

“चुनाव के ठीक पहले पुलवामा हो जाता है, मैंने उस वक्त भी सवाल उठाया था कि आखिर उस सड़क पर जहां परिंदा भी पर नहीं मार सकता है, वहां RDX से भरी कार पहुंची कैसे और तो और उसी गाड़ी में टक्कर कैसे मारी, जो बुलेट प्रूफ नहीं थी, अब खबर आ रही है कि पुलवामा में भी वहीं डीएसपी देविंदर पोस्टेड था. देविंदर के बारे में कहा जाता है कि उसने आतंकी अफजल गुरू को दिल्ली पहुंचाया था”

आज राजधानी के इंडोर स्टेडियम में नगरीय निकाय में चुनकर आये 1300 से ज्यादा पार्षदों का सम्मान किया गया। इस मौके पर उन्होंने चुनाव जीतने वाले सभी पार्षदों का अभिनंदन करते हुए कहा कि उन्होंने जिस तरह से जीत दर्ज की है, वो बहुत काबिले तारीफ तो है ही, जनता का भी आभार है, जिन्होंने कांग्रेस की नीतियों पर भरोसा जताया।

उन्होंने कहा कि जिस तरह का परिणाम इस बार नगरीय निकाय चुनाव में आया है, वैसी सफलता आज तक कभी किसी प्रदेश में नहीं आया, जब किसी एक पार्टी ने शत प्रतिशत निगमों में जीत दर्ज की हो। उन्होंने कहा कि…

“छत्तीसगढ़ की सरकार लोगों को जोड़ने का काम कर रही है, वहीं दिल्ली में बैठी सरकार लोगों को तोड़ने का काम कर रही है, एक बात की तरफ हम जरूर इशारा करना चाहेंगे कि पिछला 5 साल जो गुजरा वो नरेंद्र मोदी का समय था जिसमें उन्होंने नोटबंदी किया, जीएसटी लाया…ये 7-8 महीने जो गुजरा ये अमित शाह का है, जिसमें 370 लाया, 35A CAA, NPR, NRC लाया, ये दोनों मिलकर हिंदुस्तान के लोगों को अंग्रेजी सिखाने का काम कर रहे हैं, पांच साल उन्होंने तकलीफ दी और 7-8 महीने में इन्होंने जो किया उससे लोग सड़क पर आ चुके हैं”

Spread the love