PM मोदी दिवाली मनाने लोंगेवाला पोस्ट पहुंचे, 1971 में सेना ने PAK ने दी थी मात…..जवानों संग इस तरह मनायी खुशियां

नयी दिल्ली 14 नवंबर 2020। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी हर साल की तरह इस बार भी बॉर्डर पर तैनात जवानों के साथ दिवाली मना रहे हैं. पीएम नरेंद्र मोदी राजस्थान के जैसलमेर बॉर्डर में पहुंच चुके हैं. पीएम मोदी के साथ सीडीएस बिपिन रावत, आर्मी चीफ एमएम नरवणे, एयर चीफ मार्शल आरकेएस भदौरिया और बीएसएफ के डीजी राकेश अस्थाना मौजूद हैं.

बता दें कि जैसलमेर में भारत-पाकिस्तान की सीमा मिलती है. यहां बॉर्डर पर बीएसएफ की तैनाती है. सुप्रसिद्ध तनोट माता का मंदिर भी यहीं पर है. प्रधानमंत्री जैसलमेर के लोंगेवाला बॉर्डर पर बीएसएफ जवानों के साथ दीपावली मना रहे हैं. लोंगेवाला मूल रूप से बीएसएफ का एक पोस्ट है.

लोंगेवाला सुनकर क्यों कांपता है पाकिस्तान

बता दें कि लोंगेवाला का देश के सैन्य इतिहास में अहम स्थान है. ये वही स्थान है जहां 1971 में भारत पाकिस्तान के भीषण युद्ध हुआ था. इस युद्ध में भारत की सेना ने पाकिस्तानियों पर जो कहर बरपाया था, उसे पाकिस्तान आज भी नहीं भूल पाता है.

4 दिसंबर 1971 की इस लड़ाई को लोंगेवाला पोस्‍ट पर तैनात 120 भारतीय सैनिकों ने 40-45 टैंकों के कब्जा करने आए 3000 पाकिस्‍तानी जवानों को जो शिकस्त दी थी वो इतिहास बन गया था. लोंगेवाला चौकी पर कब्जा करने की नापाक कोशिश में पाकिस्तानियों को अपने 34 टैंक, पांच सौ वाहन और दो सौ जवानों से हाथ धोना पड़ा था, लेकिन ये चौकी अविजेय रही थी.

2019 में राजौरी में थे पीएम मोदी

पिछले साल 27 अक्टूबर 2019 को पीएम नरेंद्र मोदी ने जम्मू-कश्मीर के राजौरी में जवानों के साथ दीवाली मनाई थी. आर्मी ड्रेस में पीएम मोदी जवानों के बीच पहुंचे और उनके बीच मिठाइयां बांटी थी. इससे पहले 2018 में पीएम मोदी ने उत्तराखंड के उत्तरकाशी में सेना और ITBP के जवानों के बीच दीवाली मनाई थी.

Spread the love