तस्वीरें देखिए: सरगुजा राजमाता देवेंद्र कुमारी को अंतिम विदा देने उमड़ा जनसैलाब.. लोग सड़कों पर आख़िरी दर्शन करने मौजूद .. मध्यप्रदेश से लेकर सूबे के सभी प्रमुख नेता मंत्री हुए शामिल

अंबिकापुर,12 फ़रवरी 2020। सरगुजा राजमाता देवेंद्र कुमारी सिंहदेव को अंतिम विदा देने लोगों का हुजूम उमड़ा हुआ है। अपने आप में एक इतिहास मानी जाने वाली देवेंद्र कुमारी सिंहदेव ने सरगुजा के जन जन से जो रिश्ता बनाया था, वह रिश्ता ही है जिसने भीगी पलकों और रुँधे कंठों के साथ सरगुजिहा जन मन को दरिमा एयर स्ट्रिप से लेकर सरगुजा पैलेस के बीस किलोमीटर के पूरे रास्ते पर मौजूद रखा।

वाट्सएप पर अपडेट पाने के लिए कृपया क्लीक करे


वह सरगुजा पैलेस जहां पर जुब्बल की राजकुमारी देवेंद्र कुमारी, सरगुजा राजपरिवार बहू बनकर पहुँची, और धीरे धीरे पूरे सरगुजा से नेह का रिश्ता क़ायम किया, इस वजह से जो पैलेस सरगुजा में कांग्रेस और जनता के मानस का प्रतीक बना, उस पैलेस में सरगुजा राजमाता देवेंद्र कुमारी सिंहदेव की पार्थिव देह कुछ देर में जनता के दर्शन और श्रद्धांजली देने के लिए रखी जाएगी।


बेहद भावुक क्षणों के बीच राजमाता देवेंद्र कुमारी सिंहदेव के पार्थिव देह को विशेष विमान से अंबिकापुर लाया गया है।


एयरपोर्ट पर मंत्री प्रेमसाय सिंह, उमेश पटेल, अमरजीत भगत के साथ विधायक खेलसाय सिंह विकास उपाध्याय, बृहस्पति सिंह समेत कांग्रेस से जूड़े राजनेता मौजूद थे। विशेष विमान से दिग्विजय सिंह के साथ मंत्री रविंद्र चौबे, शिव डहरिया भी एयरपोर्ट पर पहूंचे। सुबह मंत्री कवासी लखमा भी उमेश पटेल के साथ अंबिकापुर आ चुके हैं।


अब से कुछ देर पहले हैलीकाप्टर से पीसीसी अध्यक्ष मोहन मरकाम, गृहमंत्री ताम्रध्वज साहू, वन मंत्री मोहम्मद अकबर विधायक सत्यनारायण शर्मा,  भी राजमाता को श्रद्धांजलि देने पहुँचे हैं।

सुबह नियमित ट्रेन से सीएम भूपेश बघेल के मीडिया सलाहकार रुचिर गर्ग, राजनैतिक सलाहकार विनोद वर्मा और CPR तारण सिन्हा, सलाहकार राजेश तिवारी, विधायक धनेंद्र साहू, विधायक शैलेष पांडेय, करुणा शुक्ला, विधायक रश्मि सिंह भी श्रद्धांजलि देने पहुँचे हैं।

Get real time updates directly on you device, subscribe now.