दर्दनाक: पूरे परिवार ने की आत्महत्या- दो बेटों और पत्नी संग आभूषण कारोबारी ने घर में लगाई फांसी, इस वजह से था परेशान

नईदिल्ली 19 सितम्बर 2020. राजस्थान की राजधानी जयपुर से एक दिल दहलाने वाली घटना सामने आई है। शहर के कानोता थाना क्षेत्र के अंतर्गत जामडोली में राधिका विहार के एक ही परिवार के 4 लोगों ने फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली है। पुलिस के मुताबिक माता-पिता के साथ दो बेटों ने सामूहिक फांसी लगाकर आत्महत्या की है। बताया जा रहा है कि परिवार ने भारी कर्ज उठाया हुआ था और ब्याज माफिया उन्हें कर्ज वापस करने को लेकर परेशान कर रहा था। इसी से तंग आकर परिवार ने सामूहिक आत्महत्या कर ली। पुलिस फिलहाल मामले की जांच कर रही है।

जानकारी के अनुसार, मृतक परिवार ज्वैलरी का कारोबार करता था। कल दिन में इनके घर पर एक महिला आई थी। महिला इन लोगों से पैसे मांग रही थी और परिवार को बेइज्जत करके गई थी।

जाानकारी के मुताबिक, मृतक परिवार ने महिला से कहा था कि दुकान और घर बेचने के बाद उसके पैसे वापस कर दिए जाएंगे। लेकिन रात को ही इस परिवार के चार सदस्यों ने फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली। इनमें से तीन ने हॉल में जबकि चौथे ने कमरे में पंखे से फांसी लगाकर आत्महत्या की। फंदे पर लटके दो लोगों के पैर भी बंधे हैं। पुलिस के आला अधिकारी मौके पर पहुंच गए हैं। मौके पर एफएसएल टीम को बुलाई गई है। हालांकि, मौके से कोई सुसाइड नोट नहीं मिला है।

वहीं, जयपुर पूर्व के एडिशनल डीसीपी मनोज चौधरी ने बताया कि कानौती थाना क्षेत्र जामरोली के राधिका विहार में एक सर्राफा परिवार के चार लोगों के शव मकान में मिले हैं। प्राथमिक जांच में सामने आया है कि यह परिवार अलवर का रहने वाला था और पांच साल से जयपुर में सर्राफा का काम कर रहा था।

फिलहाल पैसे का लेन-देन और कर्ज के कारण आत्महत्या करने का मामला सामने आ रहा है। एफएसएल की टीम मौके पर जांच कर रही है। पूछताछ के लिए दो-तीन लोगों को बुलाया गया है। मरने वालों में परिवार के मुखिया 45 वर्षीय सदासव देसाई, 41 वर्षीय उनकी पत्नी और 20 तथा 23 वर्ष के दो पुत्र शामिल हैं।

Get real time updates directly on you device, subscribe now.