दर्दनाक वारदात: पुलिसकर्मी पिता ने पत्नी-बेटी और बेटे को चाकू से गोदकर मार डाला, बेटी करना चाहती थी भाग कर प्रेम विवाह…पढ़ें पूरी खबर

रांची 1 फरवरी 2020। झारखंड की राजधानी रांची से बड़ी खबर सामने आ रही है। यहां बड़गाई इलाके में एक परिवार के तीन लोगों के नृशंस हत्या कर दी गई. घटना की सूचना पर पहुंची पुलिस ने तीनों शवों को कब्जे में लेकर पोस्टमॉर्टम के लिए भेज दिया है। आरोपित पुलिसकर्मी ने अपनी पत्नी, बेटी और बेटे को हथौड़ से पीटकर और चाकू से गोदकर मार डाला।

घटना रांची के बड़गाईं इलाके के चित्रगुप्त नगर की है. बीती रात 12.30 बजे आरोपी पिता ने घटना को अंजाम दिया हैजिस कमरे में तीनों का शव बरामद हुआ है उस कमरे को सील कर दिया गया है। पुलिस सूत्रों की मानें तो बृजेश तिवारी अपनी बेटी के प्रेम प्रसंग से परेशान था। बेटी घर से भागकर प्रेमी संग शादी करना चाहती थी। इसी वजह से शुक्रवार को ड्यूटी से नशे में धुत लौटे पुलिसकर्मी बृजेश तिवारी का परिवार के साथ में विवाद हुआ, जिसके बाद उसने हथौड़ी और चाकू से मार कर पत्नी, बेटी और बेटे की हत्या कर दी।

घटना के बाद आरोपित पुलिसकर्मी पिता ने खुद जहर खाकर जान देने की कोशिश की। जिंदगी और मौत से जूझ रहे पुलिसकर्मी को रिम्स के मेडिसिन विभाग में भर्ती कराया गया है। पुलिसकर्मी का नाम ब्रजेश तिवारी बताया गया है। आरोपित पुलिसकर्मी ने वारदात को अंजाम देने के बाद अपनी बहन को फोन कर इसकी जानकारी दी है। आरोपित पुलिसकर्मी बृजेश तिवारी पलामू का रहने वाला है।

आरोपित पुलिसकर्मी झारखंड पुलिस के स्पेशल ब्रांच के एसआईबी के डीएसपी मनीष तोपो का बॉडीगार्ड है। मृतकों में बृजेश तिवारी की पत्नी रिंकी देवी, बेटी खुशबू देवी और बेटा बादल शामिल है। बता दें कि बृजेश की बेटी खुशबू बरियातू के सेवंथ डे स्कूल में दसवीं और बेटा आठवीं में पढ़ता था. यह परिवार बड़गाईं में डेढ़ साल से बलदेव साहू के मकान में किराए पर रह रहा था।

Spread the love