एनकाउंटर में शहीद हुए DSP समेत आठ पुलिसकर्मियों के परिजनों को एक-एक करोड़ और सरकारी नौकरी…. CM योगी ने किया एलान

कानपुर 3 जुलाई 2020. स्ट्रीशीटर विकास दुबे के गांव दबिश देने के दौरान शहीद आठ पुलिसकर्मियों के पार्थिव शरीर पर मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने शुक्रवार की शाम करीब चार बजे पुलिस लाइन पहुंचकर पुष्पचक्र अर्पित करके श्रद्धांजलि दी और उनकी आत्मा की शांति के लिए प्रार्थना की।मुख्यमंत्री ने कहा है कि शहीद सभी आठ पुलिस जवान के परिवारों को एक-एक करोड़ रुपये की आर्थिक मदद दी जाएगी। साथ ही शहीदों के प्रत्येक परिवार के एक सदस्य को शासकीय सेवा प्रदान की जाएगी और आश्रित को असाधारण पेंशन का लाभ दिया जाएगा।

हिस्ट्रीशीटर बदमाश को पकड़ने गई पुलिस पर हुई फायरिंग में आठ जवानों की शहादत के बाद मुख्यमंत्री योगी और डिप्टी सीएम केशव प्रसाद मौर्या घटना स्थल पर पहुंचे हैं। यहां पर डीजीपी हितेश चंद्र अवस्थी समेत तमाम आला पुलिस अफसर मौके पर मौजूद हैं।

कानपुर पहुंचने के बाद सबसे पहले सीएम योगी ने शहीद हुए आठ पुलिसकर्मियों को श्रद्धांजलि दी। इसके बाद उन्होंने सभी के परिजनों से मुलाकात कर सांत्वना दी। सीएम योगी और डिप्टी सीएम घायल पुलिसकर्मियों को देखने के लिए अस्पताल भी पहुंचे और उनका हाल जाना। सीएम ने कहा कि हमारे 8 जवानों की मौत हुई है और दो बदमाश भी मारे गए हैं। हमारे पुलिसकर्मियों की कुर्बानी व्यर्थ नहीं जाएगी। जो भी दोषी होगा, उसे छोड़ा नहीं जाएगा

दरअसल, यूपी के कानपुर में देर रात हिस्ट्रीशीटर को पकड़ने गई पुलिस टीम पर बदमाशों ने ताबड़तोड़ फायरिंग कर दी। इसमें सीओ समेत आठ पुलिसकर्मी शहीद हो गए। चार पुलिसकर्मी घायल भी हैं। घटना कानपुर में चौबेपुर थाना क्षेत्र के बिकरू गांव की है। यहां पुलिस बदमाश विकास दुबे को पकड़ने गई थी। वहीं बाद में पुलिस ने हमला करने वाले दो बदमाशों को मार गिराया है। अभी भी मुठभेड़ जारी है और विकास दूबे की तलाश की जा रही है। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने घटना में शहीद पुलिसकर्मियों को श्रद्धांजलि देते हुए मामले की पूरी रिपोर्ट तलब की है और बदमाशों को तुरंत पकड़ने के आदेश दिए हैं।

Spread the love