दीपिका पादुकोण के JNU जाने के फैसले पर छपाक की निर्देशक मेघना गुलजार का बयान आया सामने….

मुंबई 15 जनवरी 2020. मेघना गुलजार ने सोमवार को कहा कि अभिनेत्री दीपिका पादुकोण का जवाहर लाल नेहरू विश्वविद्यालय (जेएनयू) जाकर हमले के शिकार छात्रों के प्रति एकजुटता प्रकट करना उनका निजी फैसला था। उन्होंने निजी और पेशेवर जीवन को अलग रखने की जरूरत बताई। मेघना गुलजार ने दर्शकों से भी अनुरोध किया कि वे नजरिया बदलें और तेजाब हमले की शिकार लक्ष्मी अग्रवाल की जिंदगी पर फिल्म बनाने के कारण को देखें।

वाट्सएप पर अपडेट पाने के लिए कृपया क्लीक करे

‘छपाक’ फिल्म में दीपिका मुख्य भूमिका में है। यह फिल्म उस समय राष्ट्रीय सुर्खियों में आयी जब दीपिका छपाक के प्रदर्शन से तीन दिन पहले जेएनयू परिसर में गईं। हालांकि, उन्होंने वहां पर कुछ नहीं कहा। इसको लेकर दीपिका को प्रशंसा के साथ-साथ आलोचना का भी सामना करना पड़ा।

मेघना ने ‘पीटीआई-भाषा’ को टेलीफोन पर दिए साक्षात्कार में दीपिका के जेएनयू जाने के मुद्दे पर कहा, ‘हमें निजी और पेशेवर जीवन को अलग करने में सक्षम होना चाहिए। कोई अपनी निजी जिंदगी में क्या करता है और पेशेवर की तरह फिल्म में क्या करता है, उसे अलग-अलग देखना चाहिए।’ उन्होंने कहा, ‘जब वे निजी और पेशेवर पहलुओं को अलग करने की कोशिश कर रहे हैं और अगर कोई इस नजरिए में हल्का बदलाव कर यह देखता है कि आखिर हमने क्यों फिल्म बनाई, जिसे हम केंद्र में लाना चाहते हैं… मेरा मानना है कि वह महत्वपूर्ण है।’

Get real time updates directly on you device, subscribe now.