NPG ब्रेकिंग: एड़समेटा कांड के लिए CBI दल पहुंचा मेकाहारा.. घंटो रिकॉर्ड खंगाले.. अभिलेख जप्त.. चिकित्सकों से पूछताछ भी

रायपुर,3 फ़रवरी 2020। एड़समेटा कांड मामले में सुप्रीम कोर्ट की डबल बेंच के आदेश पर जाँच कर रही CBI टीम ने देर शाम मेकाहारा अस्पताल पहुँची। खबरें हैं कि CBI टीम ने मेकाहारा अस्पताल से 20 मई 2013 से लेकर 25 मई 2013 के अभिलेख को लेकर जानकारी तलब की और अभिलेखों की जप्ती बनाकर ले गए हैं।

दक्षिण बस्तर के बीजापुर ज़िला मुख्यालय से क़रीब तीस किलोमीटर दूर गंगालूर थाने के एड़समेटा में सात साल पहले 17 -18 मई 2013 की रात CRPF ने मुठभेड़ का दावा किया था,CRPF की ओर से जानकारी दी गई कि, माओवादियों से मुठभेड़ में CRPF के एक जवान समेत आठ नक्सलियों की मौत हुई है। हालाँकि इस दावे पर अगले ही दिन सवाल उठ गए और ग्रामीणों ने जमकर हंगामा कर दिया।ग्रामीणों ने आरोप लगाया कि वे देव स्थान ( गाँव के ग्राम देवता का स्थान ) में बीज पंडूम ( स्थानीय त्यौहार ) मना रहे थे, तभी पुलिस वहाँ पहुँची और दौड़ा दौड़ा कर मारा। CRPF ने मारे गए लोगों को लेकर दावा किया कि, वे नक्सली थे लेकिन मरने वालों में तीन बेहद कम उम्र के बच्चे भी थे।

मामले पर मचे हंगामे को देखते हुए तत्कालीन भाजपा सरकार ने जस्टिस वी के अग्रवाल की एकल पीठ के तहत न्यायिक जाँच का गठन किया था। तत्कालीन सरकार ने तब मृतकों के परिजनों को पाँच पाँच लाख रुपए मुआवज़ा भी दिया था।मामले को लेकर किशोर नारायण, सोनी सोरी और डिग्री प्रसाद सुप्रीम कोर्ट पहुँचे थे, जहां जस्टिस नागेश्वर राव और जस्टिस केबी शाह की बेंच ने सुनवाई के बाद राज्य की बाहर की ऐजेंसी से कराने के निर्देश दिए थे।

सुप्रीम कोर्ट के निर्देश पर CBI ने केस रजिस्टर कर मामले की विवेचना शुरु की। बीते साल 20 जुलाई को CBI की टीम सारिका जैन की अगुवाई में एड़समेटा पहुँची थी।
आज CBI की टीम देर शाम मेकाहारा पहुँची, CBI ने क्या किया इसे लेकर पूरी तरह चुप्पी साध ली गई है, कोई भी कुछ कहने को तैयार नहीं है।

NPG के सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार 23-24 मई 2013 को तीन आहत रायपुर लाए गए थे, इनमें एक के सीने में जबकि दो के पाँव में गोली लगी थी। इन्हें उपचार के लिए भर्ती कराया गया था लेकिन अगले ही दिन ये सभी ग़ायब हो गए। सूत्रों के अनुसार इन्हें बीजापुर से लाया गया था, जिन्हें पहले जगदलपुर और फिर रायपुर लाया
गया था।

संकेत हैं कि CBI इन्हीं घायलों को लेकर पूछताछ कर रही थी और संबंधित रिकॉर्ड और चिकित्सकों से बयान लेकर रवाना हो गई है।

Spread the love