अब इस राज्य के DGP ने दिया इस्तीफा.. सीएम से मुलाकात के बाद अटकलें तेज, जानें क्या हैं कारण

नईदिल्ली 24 सितम्बर 2020. अपनी बेदाग और ईमानदार छवि के लिए मशहूर आईपीएस अधिकारी डॉ. भूपेंद्र सिंह यादव राजस्थान पुलिस महानिदेशक पद से इस्तीफा दे दिया है। भूपेंद्र सिंह का कार्यकाल अभी 2021 तक बचा था, लेकिन उन्होंने सरकार को इस्तीफा भेज दिया। वहीं राज्य सरकार अब नये डीजीपी की नियुक्ति में लग गए हैं। राजस्थान के एक शीर्ष नौकरशाह ने इसकी पुष्टि की। अधिकारी ने कहा, “पुलिस महानिदेशक (डीजीपी) भूपेंद्र सिंह ने स्वैच्छिक सेवानिवृत्ति के लिए आवेदन किया है।

नये डीजीपी की तलाश शुरू– वहीं भूपेंद्र सिंह के इस्तीफे के साथ ही नये डीजीपी की तलाश शुरू है गई है। बताया जा रहा है कि मोहनलाल राठिया नये डीजी बन सकते हैं। हालांकि सरकार को इसके लिए पूरी प्रक्रिया करनी होगी. यूपीएससी और सरकार दोनों से नये डीजीपी के लिए सहमति लेना होगा। उनकी जगह अब डीजीपी अपराध एमएल लाठर को नियुक्त किया जा सकता है।”

उन्होंने कहा कि भूपेंद्र सिंह राजस्थान उप्र लोक सेवा आयोग के अध्यक्ष के रूप में दीपक उप्रेती की जगह ले सकते हैं या अजमेर में एमडीएस विश्वविद्यालय के नए कुलपति हो सकते हैं। उप्रेती का रिटायरमेंट अगले सप्ताह होने वाला है। आपको बता दें कि पिछले साल अगस्त में उन्हें जून 2021 तक विस्तार दिया गया था।

भूपेंद्र सिंह 1986 बैच के आईपीएस अधिकारी, जिन्हें 30 जून, 2019 को पुलिस महानिदेशक बनाया गया था और माना गया था कि वह दो साल के लिए इस पद को संभालेंगे। सेवा विस्तार का निर्णय संघ लोक सेवा आयोग द्वारा गठित समिति की सिफारिश और राज्य सरकार के कार्मिक विभाग द्वारा जारी आदेश पर आधारित था।

भूपेंद्र सिंह और एसीबी डीजी आलोक त्रिपाठी राज्य के सबसे वरिष्ठ आईपीएस अधिकारी हैं। DGP से पहले, सिंह ATS और SOG DG के रूप में तैनात थे। लंबे समय तक वह जोधपुर में तैनात रहे, जो सीएम अशोक गहलोत का गृह क्षेत्र है।

बता दें कि मंगलवार को बिहार के डीजीपी गुप्तेश्वर पांडेय ने इस्तीफा दे दिया था।पांडेय के इस्तीफे के साथ ही ये भी अटकलें लगने लगी कि क्या वे राजनीति में आएंगे। हालांकि कल पांडेय ने राजनीतिक में आने की बात को तत्काल तौर पर स्वीकार नहीं किया।

Get real time updates directly on you device, subscribe now.