SDM पिंकी मीणा की शादी में नया ट्विस्ट…..सजा रह गया मंडप, मैरिज हॉल शादी के लिए नहीं पहुंचा निलंबित SDM पिंकी मीणा का दूल्हा, पढ़ें- फिर क्या हुआ..

रायपुर 17 फरवरी 2021। जयपुर। पिंकी मीणा अब किसी पहचान की मोहताज नहीं है। उनकी पहचान तो तभी बन गईं जब वो राजस्थान प्रशासनिक सेवा के लिए चुनीं गईं। लेकिन जब वो भ्रष्टाचार के मामले में जेल पहुंची तो राष्ट्रीय फलक पर वो आ गईं। घूसखोरी की आरोपी निलंबित एसडीएम पिंकी मीणा ने बसंत पंचमी के मौके पर शादी तो की, लेकिन तय वक्त पर जज दुल्हा नरेंद्र कुमार मंडप पर नहीं पहुंचा। अब पूरा मामला क्या है इसे हम आपको बताएंगे।

लोग करते रह गये इंतजार 

पिंकी मीणा की शादी में न ढोल-बाजा बजा और न चमचमाती रोशनी और आतिशबाजी की गई, बल्कि गुपचुप में एक गांव में ही फेरे लिये गये।16 फरवरी को शादी के लिए मैरिज हॉल एकदम सजकर तैयार था, लेकिन तभी पता चला कि बारात यहां नहीं आएगी। इसके बाद यह शादी सादे समारोह में पिंकी मीणा के घर पर ही हुई। कहा यह भी जा रहा है कि मीडिया कवरेज से बचने के लिए यह फैसला लिया गया। हालांकि अब तक इस पर वर या वधू पक्ष का बयान सामने नहीं आया है। यूं तो हर साल बसंत पंचमी के मौके पर हजारों शादियां होती हैं, लेकिन पिंकी मीणा की शादी खास चर्चा में रही है।पिंकी मीणा को शादी के बाद एक बार फिर से 21 फरवरी को जेल में सरेंडर करना है। वह राजस्थान हाई कोर्ट से 10 दिन की जमानत मिलने पर बाहर आई थीं। रिहाई के बाद 11 फरवरी को पीले चावल की रस्म हुई थी और फिर 12 तारीख को बान सांकड़ी की रस्म अदा की गई। वहीं प्रेम के पर्व कहे जाने वाले वैलेंटाइन डे के मौके पर लगन टीका हुआ था।

यहां बनाया गया था मंडप

जयपुर के सीकर रोड स्थित शादी वाले रिसॉर्ट में देर रात तक दूल्हे का इंतजार होता रहा लेकिन शादी का मंडप सूना रहा।  राजावास का अनंतम सफारी शादी समारोह के लिए बुक कराया गया था। एक एक कर मेहमान राजावास आ रहे थे। मेहमानों की खातिरदारी या मेहमान नवाजी में किसी तरह की कमी नहीं थी। लेकिन सब लोग दुल्हा- दुल्हन के आने का इंतजार करते रहे। बुधवार सुबह इस मामले से पर्दा उठा कि आखिर तय जगह पर दुल्हा क्यों नहीं आया।


आखिर किस जगह हुई शादी

अब सवाल यह है कि जब अनंतम सफारी में शादी नहीं हुई तो आखिर कहां हुई। दरअसल पिंकी मीणा की शादी उनके गांव में ही संपन्न हुई। दुल्हा देर रात दौसा से पिंकी के गांव पहुंचा और शादी की रस्म संपन्न हुई। बड़ी बात है पिंकी के गांव में किसी तरह का तामझाम नहीं था। उनके घर पर सामान्य दिनों की तरह ही सजावट की गई थी। वर और वधु पक्ष की तरफ से चुनिंदा शादी में शामिल हुए।  पिंकी मीणा के गांव वाले घर में  सात फेरे भी लिए गए। शादी की रस्म के बाद पिंकी मीणा की अपने ससुराल के लिए विदा हो गईं। राजस्थान हाई कोर्ट के आदेश के अनुसार 21 फरवरी को पिंकी मीणा को जेल में सरेंडर करना होगा। ऐसे में अब शादी के बाद सिर्फ 4 दिन तक अपने पति के साथ रह सकेंगी।

10 लाख घूस लेते पकड़ायी थी

पिंकी मीणा को 15 जनवरी को दिल्ली-मुंबई एक्सप्रेसवे को तैयार करने में जुटे एक कॉन्ट्रैक्टर से 10 लाख रुपये की घूस लेने के आरोप में गिरफ्तार किया गया था। एक शिकायत के आधार पर राजस्थान के एंटी-करप्शन ब्यूरो ने उनके खिलाफ एक्शन लिया था और उन्हें रंगे हाथों अरेस्ट किया गया था। इसके बाद से ही यह मामला चर्चा में है। जयपुर की घाटगेट जेल में उन्हें रखा गया था। इसी प्रकरण में दौसा एसपी रहे मनीष अग्रवाल को भी एसीबी पकड़ चुकी है। आईपीएस मनीष अग्रवाल पर कंपनी से 38 लाख की घूस लेने का आरोप है।

Spread the love