BMC की कार्यवाही पर NCP प्रमुख शरद पवार हुए नाराज.. इधर हाईकोर्ट ने भी लगाई रोक… एयरपोर्ट पर कंगना समर्थक और सरकार समर्थक आमने सामने

मुंबई, 9 सितंबर 2020। BMC की कार्यवाही शिवसेना के लिए उलटे बांस बरेली का मसला बन रहा है। शिवसेना के राजनैतिक स्वामित्व वाले BMC के दस्ते ने जिसमें महाराष्ट्र पुलिस का भी सहयोग था, अभिनेत्री कंगना का ऑफिस अतिक्रमण बताते हुए सुबह तोड़ दिया। हिमाचल से लौटते हुए बॉलीवुड अभिनेत्री कंगना इस पूरी कार्रवाई को लेकर बेहद तीखे शब्दों के साथ ट्वीट कर विरोध जताती रहीं, हालाँकि उनके ट्वीट जनसमर्थन हासिल करने के मक़सद से ज़्यादा थे और जैसा कि एयरपोर्ट से लेकर सोशल मीडिया पर दिखा, कंगना अपने मक़सद में सफल होते दिखीं हैं।
वहीं BMC की कार्यवाही को लेकर महाराष्ट्र के तीन दलों की संयुक्त सरकार के आर्किटेक्ट कहे जाने वाले NCP प्रमुख शरद पवार ने नाराज़गी ज़ाहिर की है और सवाल खड़े किए हैं।

शरद पवार ने कहा
“कई इमारतें हैं जो अतिक्रमण पर हैं इसे ही निशाना क्यों बनाया गया ? ऐसी कार्यवाही से कंगना को और कहने का अवसर मिला है”
राकांपा प्रमुख शरद पवार के इस बयान के ठीक पहले महाराष्ट्र हाई कोर्ट ने BMC की कार्यवाही पर रोक लगा दी है। हालाँकि कोर्ट में यह मसला पेचीदा होना है क्योंकि जब तक कि आदेश आता,BMC ढहा कर रवानगी ले चुकी थी। ज़ाहिर है हाईकोर्ट में यह मसला और पेचीदे रुप में सामने लाया जाएगा।

इधर कंगना रानावत के मुंबई पहुँचते ही तापमान और गर्म है। एयरपोर्ट पर कंगना समर्थक और सरकार समर्थक बड़ी संख्या में उपस्थित हैं और जमकर नारेबाज़ी कर रहे हैं।

Get real time updates directly on you device, subscribe now.