npg
नेशनल

सचिन पायलट गद्दार! भारत जोड़ो यात्रा से पहले राजस्थान में बड़ी कंट्रोवर्सी, गहलोत बोले- पायलट ने गद्दारी की थी, मुझे नहीं तो 102 में से किसी बना दें सीएम

सचिन पायलट गद्दार! भारत जोड़ो यात्रा से पहले राजस्थान में बड़ी कंट्रोवर्सी, गहलोत बोले- पायलट ने गद्दारी की थी, मुझे नहीं तो 102 में से किसी बना दें सीएम
X

NPG ब्यूरो। राहुल गांधी की भारत जोड़ो यात्रा 3 दिसंबर को राजस्थान में प्रवेश करेगी, उससे पहले बड़ी कंट्रोवर्सी खड़ी हो गई है। मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने डिप्टी सीएम रहे सचिन पायलट पर गद्दारी करने का आरोप लगाया है। गहलोत ने मीडिया को दिए इंटरव्यू में कहा है कि उसने (पायलट ने) गद्दारी की थी। सीएम कैसे बन सकता है? जिसके पास 10 विधायक न हों, उसे कोई स्वीकार नहीं करेगा।

किसी और को सीएम बनाने के सवाल पर गहलोत ने कहा कि सरकार बचाने वाले 102 विधायकों में से किसी को भी बना दें। हाईकमान कहे तो मैं आज भी तैयार हूं। यदि आपको लगता है कि दूसरा चेहरा चुनाव जितवा सकता है तो उसे बना दीजिए। हमने कैसे 34 दिन निकाले हैं, हम ही जानते हैं। सीएम बने रहने के सवाल पर गहलोत ने कहा कि आज तो मैं ही हूं। मुझे कोई इंडिकेशन नहीं है। मैं हाईकमान के साथ हूं।

जिस चेहरे से सरकार आएगी उसे बनाइए

अशोक गहलोत ने कहा कि वे हाईकमान और अजय माकन को अपनी भावनाओं से अवगत करा चुके हैं। राजस्थान में सरकार आना जरूरी है। मैं तीन बार सीएम रह चुका हूं। अब मेरे लिए सीएम रहना जरूरी नहीं है। हाईकमान सर्वे करा ले। मेरे मुख्यमंत्री रहने से सरकार आ सकती है तो रखें या दूसरे चेहरे से सरकार आ सकती है तो उसे बना लें।

गहलोत ने पायलट समर्थकों को किनारा करने के सवाल पर कहा कि उनके सपोर्टर सार्वजनिक रूप से कह चुके हैं कि उनके सब काम होते हैं। पायलट समर्थक अजय माकन को भी कह चुके हैं कि उन्हें मुख्यमंत्री से कोई शिकायत नहीं है। जो मांगते हैं, वह काम करते हैं।

7 जिलों की 18 सीटों को कवर करेंगे

भारत जोड़ो यात्रा के राजस्थान में प्रवेश की संभावित तिथि 3 दिसंबर है। भारत जोड़ो यात्रा राजस्थान के 7 जिलों से होकर गुजरेगी। इसमें सीधे तौर पर 18 विधानसभा क्षेत्र प्रभावित होंगे। संभावित तिथि के मुताबिक 3 दिसंबर यात्रा झालावाड़ की सीमा से राजस्थान में प्रवेश करेगी। इसके बाद झालरापाटन, कोटा की लाडपुरा, कोटा उत्तर, कोटा दक्षिण और रामगंज मंडी विधानसक्षा क्षेत्रों से यात्रा गुजरेगी। कोटा के बाद बूंदी की केशोरायपाटन क्षेत्र से होते हुए यात्रा टोक जिले की देवली और उनियारा से गुजरते हुए सवाई माधोपुर जिले में प्रवेश करेगी। सवाई माधोपुर की बामनवास और लालसोट के बाद दौसा जिले की दौसा, लालसोट, सिकराय, बांदीकुई विधानसभा क्षेत्रों को कवर करते हुए भारत जोड़ो यात्रा अलवर जिले में प्रवेश करेगी। अलवर की 4 विधानसभाओं अलवर ग्रामीण, रामगढ़, राजगढ़, लक्ष्मणगढ़ से होते हुए हरियाणा की सीमा में प्रवेश करेगी।

Next Story