दिन दहाड़े अपहरण के बाद हत्या… आरोपियों का कोई सुराग़ नही, शिकायत के बाद भी पुलिस हाथ बांधकर बैठी रही… परिजनों ने पुलिस पर ढीली कार्रवाई और संदेहियों को संरक्षण देने का लगाया आरोप

अंबिकापुर,1 दिसंबर 2020। बीते 24 घंटों से अपहरित रामकृपाल साहू का शव बस्ती के पास जंगल में बरामद हुआ है। कल रामकृपाल साहू का तीन लोगों ने अपहरण कर लिया था। परिजनों ने आरोप लगाया था कि पुलिस मामले को बेहद हल्के में ले रही है और संदेहियों पर कोई कड़ाई नही बरती जा रही है। परिजनों ने किसी अप्रिय घटना की आशंका जताई थी।
जंगल में मृत अवस्था में मिला रामकृपाल साहू गांधीनगर स्थित निवास से समीपस्थ ग्राम खलिबा में खेत में धान मिसाई में लगे श्रमिकों को खाना पहुँचाने गया था। जिसके बाद वह घर नही लौटा। परिजन पता करने जब गाँव पहुँचे तो उन्हे पता चला कि तीन नक़ाबपोश मारपीट करते हुए रामकृपाल को ज़बरन अपने साथ ले गए हैं। परिजनों का दावा है कि उन्होने तत्काल इसकी सूचना थाने में दे दी थी।
परिजनों का आरोप है कि रामकृपाल की पतासाजी में पुलिस ने लापरवाही बरती है, उनके द्वारा पुलिस को संदेहियों का नाम भी बताया गया जिनमें से एक उसी गाँव का है, लेकिन पुलिस ने उन लोगों पर कोई दबाव नही बनाया।
बहरहाल लापता रामकृपाल साहू का शव बरामद हो गया। प्रथम दृष्टया मामला अपहरण के बाद हत्या का प्रतीत हो रहा है। वहीं पंक्तियों के लिखे जाने तक पुलिस को आरोपियों के संबंध में कोई सुराग नही मिला था।

Spread the love