MP सियासत: बोले CM कमलनाथ- “अगर जरुरत पड़ी तो मैं भी बेंगलुरु जाउंगा” बागी 22 विधायकों ने कर्नाटक DG को पत्र भेजा- “किसी भी कांग्रेसी नेता को मिलने की अनुमति न दी जाए..”

रायपुर,18 मार्च 2020। मध्यप्रदेश की कांग्रेसी सरकार के स्थायित्व की चाभी बन चुके सिंधिया समर्थित 22 बाग़ी विधायकों ने कर्नाटक के डीजीपी को पत्र लिखकर किसी भी कांग्रेसी नेता या सदस्य को मिलने की अनुमति नहीं देने का आग्रह किया हैं। संयुक्त हस्ताक्षर वाले पत्र में लिखा गया है-
“किसी भी कांग्रेसी नेता/सदस्य को उनसे मिलने की अनुमति न दी जाए जिससे यह सुनिश्चित हो सके कि उनके जीवन और सुरक्षा को कोई खतरा नहीं है”

इधर इन विधायकों से मिलने की क़वायद में बैंगलुरु पहुँचे मध्य प्रदेश से राज्यसभा प्रत्याशी दिग्विजय सिंह और उनके साथियों को लेकर यह जानकारी आई है कि पुलिस ने मुचलके पर छोड़ दिया है। इस प्रतिनिधिमंडल ने कर्नाटक के मुख्यमंत्री से मुलाक़ात की भी कोशिश की पर उन्हें समय नहीं दिया गया।

मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री कमलनाथ ने भोपाल में मीडिया से कहा है –
“पिछले 15 महीनों में हमने कई बार बहुमत साबित किया है। अगर कोई सड़क पर खड़ा होकर कहता है कि आपका बहुमत नहीं है तो भाजपा अविश्वास प्रस्ताव लाए।मुझे पता नहीं दिग्विजय सिंह क्या कर रहे हैं। अगर जरूरत पड़ी तो मैं भी बेंगलुरू जाऊंगा”

Spread the love