TIK-TOK के चक्कर में मां-बेटी की मौत : लकड़ी की नाव में 12 लोग कर रहे थे सैर….बीच नदी में डूब गयी नैय्या….. हादसे के ठीक पहले टिक-टॉक वीडियो किया था सोशल मीडिया पर शेयर, ..2 की मौत, एक का अब तक पता नहीं

धमतरी 29 जनवरी 2020। टिक-टॉक एक बार फिर जानलेवा बन गया….लकड़ी के नाव पर सैर करते परिवार की नाव टिकटॉक के चक्कर में पलट गयी। इस हादसे में मां-बेटी की मौत हो गयी, वहीं एक बच्ची अभी तक लापता है। घंटों गुजर जाने के बाद भी अब तक तीसरे का पता नहीं चल पाया है। पुलिस और गोताखोरों की टीम लगातार सर्च कर रही है। घटना के ठीक पहले का परिवार के सदस्यों का एक टिक-टाॅक वीडियो भी सामने आया है। वीडियो में लकड़ी के नाव में महिला, पुरूष और बच्चे सहित 12 लोग दिखायी दे रहे है।

दरअसल घटना 28 जनवरी की है। नारायणपुर से एक परिवार कोलियारी थाना अकलाडोंगरी क्षेत्र में घूमने आया था। शाम 4  बजे सभी ने नाव से डैम घुमने निकले निकले । बांध के किनारे लकड़ी के नाव में 12 लोग सवार होकर सैर करने लगे।  इस बीच हवाएं तेज होने लगी और बांध के लहर से पानी नाव में भरने लगा। बैठे लोग पानी को खाली करते जा रहे थे, लेकिन इसी बीच नाव तेज लहरों व हवा के झोंकों के बीच नाव पलट गयी। हादसे में कुछ लोगों ने अपनी तैरकर बचा ली। वहीँ सुमित्रा नाग, निवेदिका की मौत हो गई।

हादसे में दुर्गेश्वरी कांगे और नीराबाई मंडावी घायल हो गए है। वहीँ पांच वर्षीय लक्ष्मी मंडावी का पता नहीं चल पाया है।सभी घायलों को चारामा अस्पताल में भर्ती कराया गया है। घटना के संबंध में प्रभारी मथुरा सिंह ठाकुर ने बताया,  नाव पलटने से 2 लोगों की मौत हो गई है और दो लोगो का अस्पताल में इलाज चल रहा है.. एक बच्ची अब तक नहीं मिल पाई है।

Spread the love