मछली पालन में देश और प्रदेश मिशाल बने मोहम्मद इमरान…. पिता ने रखी थी नीव, आज देश के है बड़े ट्रांसपोर्टर….

धमतरी 28 नवंबर 2020. मन में कुछ कर गुजरने का जुनून हो तो बेशक इंसान किसी भी मुकाम को हासिल कर सकता है. हम बात कर है मोहम्मद इमरान खान की जो मछली पालन के क्षेत्र में आज सिहावा, नगरी इलाके ,जिले ,प्रदेश और देश के लिए मिशाल बन चुके है. मछली पालन का नीव 1975 में पिता अब्दुल जब्बार खान ने रखा था और कारोबार एक छोटे से तालाब से स्टार्ट हुआ. तब उस समय इमरान धान की खेती करता था. इस बीच जब उन्होंने जब देखा कि मछली पालन के क्षेत्र में भी अच्छी आमदनी हो सकती है तो फिर उन्होंने धीरे से मछली पालन के कारोबार को बढ़ाने लगा. आज छत्तीसगढ़ सहित देश के तमाम राज्यों में इमरान के मछली पालन का कारोबार चल रहा है. मत्स्य पालन में क्षेत्र में उनकी सफलता को देख भारत सरकार ने पूर्व में सम्मानित किया जा चुका है. वहीँ हाल ही में बीते 21 नवम्बर को न्यू दिल्ली में मात्स्यिकी दिवस के अवसर पर उन्हें फिर सम्मानित किया गया. जिसका क्रेडिट उन्होंने अपने कर्मचारियों को दिया है और बोले कि उन्हीं के मेहनत और लगन का नतीजा है जिसके चलते आज मैं इस मुकाम तक पहुँचा हूँ. बताया कि आगे भी मत्स्य पालन के क्षेत्र में बहुत कुछ करना है. हमारे छत्तीसगढ़ राज्य समेत जिले और इलाके में मछली पालन के लिए अच्छा माहौल है. इसलिए मैं किसानों के अपील करता हूँ कि वे मछली पालन के क्षेत्र में आगे आये जिसके लिए मेरा उनको हर संभव सहयोग करने के लिए प्रयासरत रहूंगा…. देखें ये वीडियो

Spread the love