कोरोना का भय दिखाकर किसान मुक्त भारत बनाने का मोदी जी और भाजपा का सपना कभी पूरा नहीं होगा….. आरपी सिंह ने सांसद सुनील सोनी के बयान पर साधा निशाना…

रायपुर 29 सितंबर 2020। छत्तीसगढ़ प्रदेश कांग्रेस कमेटी के प्रवक्ता आरपी सिंह ने रायपुर सांसद सुनील सोनी के बयान पर पलटवार करते हुए कहा है कि कोरोना का डर दिखाकर किसान मुक्त भारत बनाने का सपना अधूरा ही रहेगा। क्या पूरे देश में कोरोना का कहर मोदी जी की कृपा से सिर्फ इसलिए फैलाया गया था ताकि मोदी के तानाशाही और मनमाने फैसलों को जनता के ऊपर थोपा जा सके। किसानों को अपनी ही जमीन पर गुलाम और मजदूर बनाने का भाजपा का मंसूबा अधूरा ही रहेगा क्योंकि कांग्रेस पार्टी इसे किसी भी कीमत पर पूरा नहीं होने देगी। कांग्रेस प्रवक्ता ने कहा है कि अपनी फसल को किसान पूरे देश में कहीं भी बेचने के लिए तो पहले ही स्वतंत्र था फिर इस कानून को बनाने की आवश्यकता क्यों पड़ी सुनील सोनी को इस बात का जवाब देना चाहिए।

एक सबसे बड़ा झूठ एमएसपी के नाम पर जो देश के प्रधानमंत्री से लेकर रायपुर के सांसद सुनील सोनी तक कह रहे हैं वह एमएसपी के बारे में है अगर इस कानून में एमएसपी देने की मंशा होती तो कम से कम अध्यादेश और बाद में बिल और अब कानून में एमएसपी शब्द का जिक्र क्यों नहीं है? अगर मोदी सरकार की मंशा एमएसपी देने की है तो इसे नए कृषि कानून में शामिल करते हुए एम एस पी देना किसानों का अधिकार बना दीजिए। जो भी खरीदार एमएसपी से कम दर पर किसानों का उत्पाद खरीदेगा उसके खिलाफ आपराधिक कार्यवाही की जाएगी। लेकिन ऐसा कुछ नहीं करते हुए किसानों को उनकी जमीन पर गुलाम और मजदूर कैसे बना दिया जाए इस बात का कुचक्र रचा जा रहा है।

कांग्रेस प्रवक्ता आरपी सिंह ने सांसद सुनील सोनी से सवाल पूछा है अगर दूसरे राज्यों के किसान छत्तीसगढ़ में आकर अपना धान बेचेंगे तो यहां का किसान कहां जाएगा? क्या दूसरे राज्यों के किसान आकर अपना धान छत्तीसगढ़ में बेचे सांसद सुनील सोनी और भारतीय जनता पार्टी इसका समर्थन करती है? सुनील सोनी जी को पढ़ना चाहिए आज ही के अखबार में यह समाचार भी प्रकाशित हुआ है कि भाजपा शासित उत्तर प्रदेश के किसानों का धान भाजपा शासित हरियाणा में खरीदने से मना कर दिया है सुनील सोनी जी का इस बारे में क्या विचार है जवाब अवश्य देना चाहिए प्रदेश के किसान जानना चाहते हैं।

Get real time updates directly on you device, subscribe now.