जनता की समस्याओं से रूबरू होने आज विधायक शैलेश पाण्डेय ने जूना बिलासपुर में पहला जन चौपाल

* इस दौरान बड़ी संख्या में वार्डवासीयों ने उपस्थित होकर अपनी समस्या विधायक के सामने रखी ।

बिलासपुर 19 फरवरी 2020 विधायक शैलेश पाण्डेय ने संबंधित अधिकारियों से उक्त समस्याओं को जल्द से जल्द दूर करने का निर्देश दिया। विधायक शैलेश पाण्डेय ने कहा कि जनता के समस्याओं को दूर करना हमारी पहली प्राथमिकता है, विभिन्न कारण से जनता अपनी समस्या को लेकर मुझसे,मेरे कार्यलय या जिम्मेदार अधिकारीयों से सीधे नहीं मिल पाते हैं जिस कारण उनकी समस्या का हल भी नहीं निकल पाता, इन्ही बातों को ध्यान में रखते हुए जन चौपाल की शुरुआत की गई हैं।

 

इस दौरान जनता के द्वार पर विधायक और अधिकारी पहुचेंगे और संबंधित वार्डवासियों से मिलकर उनकी समस्या जानेंगे। विधायक पाण्डेय ने आगे बताया कि जनचौपाल का यह कार्यक्रम शहर के सभी वार्डो में लगाया जाएगा। ——आवास,पानी,राशनकार्ड के आवेदन अधिक– आज हुए जनचौपाल कार्यक्रम में आवास,राशनकार्ड और स्वास्थ्य की समस्या को लेकर अधिक आवेदन आये, विधायक शैलेश पांडे कहा की सरकार बने अभी लगभग 13 से 14 महीने हुए हैं इस दौरान चुनाव और आचार संहिता के कारण आवास आबंटन के काम नहीं हो पाया हैं। इस विषय को लेकर कलेक्टर से बात हुई हैं जल्द आवास आवंटन समिति की बैठक बुलाई जाएगी,जिसके बाद आवास देने की प्रक्रिया शुरू होगी। —-पानी के लिए नहीं होगा हाहाकार—- आज के जनचौपाल में विधायक शैलेश पांडे ने कहा कि पेयजल की समस्या को लेकर अभी से जल विभाग और निगम को निर्देशित कर दिया गया है पिछले साल की तरह इस वर्ष पानी की लोगों को नहीं होगी। शहर में लगभग 100 बोर रहेंगे साथ ही इस बार जलस्तर भी पिछले साल के तुलना में ठीक है,जिससे पानी को लेकर इस बार बहुत ज्यादा समस्या नहीं होगी,वही इस साल बैराज बनाने की बड़ी योजना शुरू हो जाएगी तो आने वाले 2 साल के बाद शहर में पानी की समस्या बिल्कुल नही होगी।

—हर समस्या का लिया जाएगा फ़ॉलोअप—– -विधायक ने जनचौपाल के दौरान आये सभी समस्याओं के निराकरण को लेकर अधिकारियों से फॉलो अप लेने की भी बात कही हैं, साथ ही उपस्थित संबंधित अधिकारियों को इन समस्याओं से अवगत कराते हुए जल्द निराकरण के लिए विधायक शैलेश पाण्डेय द्वारा निर्देश दिए गए। इस दौरान निगम , फ़ूड विभाग, राजस्व विभाग, स्वास्थ्य, शिक्षा, पुलिस एवं अन्य विभाग के अधिकारी उपस्थित रहे।

Spread the love