मंत्री कवासी लखमा ने जिन पुलिसकर्मियों को किया सम्मानित…. 72 घंटे बाद ही वो हो गये लाइन अटैच…… आरोपी को अरेस्ट करने गये पुलिसकर्मियों ने जमकर की थी अय्याशी…. मंत्री से पार्टी भी ले लिया था

रायपुर 9 जनवरी 2020। …जिस पुलिस की 72 घंटे पहले सूबे के मंत्री ने दिल खोलकर तारीफ की थी…शाबशी दी थी…और पीठ थपथपाई थी…उन्हें लाइन अटैच कर दिया गया है। मंत्री कवासी लखमा को धमकी देने वाले शख्स को गिरफ्तार कर रायपुर लाने वाली पुलिस टीम को सोमवार को ही मंत्री कवासी लखमा ने कंट्रोल रूम पहुंचकर सम्मानित किया था। पुरस्कार पाने वाली टीम में दो कांस्टेबल मेलाराम प्रधान व विक्रम वर्मा भी शामिल थे।

आपको बता दें कि मंत्री कवासी लखमा को शिमला से एक युवक अंकुश शर्मा ने फोन पर धमकी देकर 2 लाख रुपये की डिमांड की थी। युवक ने इस बात की चेतावनी दी थी कि अगर पैसा नहीं मिला तो वो सीबीआई जांच शुरू करा देगा। इस मामले की शिकायत सिविल लाइन थाने में हुई थी, जिसके बाद SSP के निर्देश पर एक टीम गठित की गयी थी और आरोपी की गिरफ्तारी के लिए शिमला भेजा गया था।

बीते सप्ताह सिविल लाइन के उप निरीक्षक अजय झा के नेतृत्व में चार सदस्यीय टीम शिमला गई थी तो ये दोनों कांस्टेबल आरोपी अंकुश शर्मा को गिरफ्तार करने वाली टीम का हिस्सा थे। वहां इन्होंने खूब मस्ती की थी। कमाल तो ये भी किया कि मौज करने वाली तस्वीर इन आरक्षकों ने सोशल मीडिया पर अपलोड भी कर दिया। शिमला में इन दो आरक्षकों ने टूरिस्ट के अंदाज में शराब-कवाब का दौर शुरू कर दिया। हद तो ये रही कि गिरफ्तार कर लौटने के बाद इन दो कांस्टेबलों ने मंत्री कवासी लखमा से पार्टी भी ले ली।

 

 

Spread the love