comscore

मेहुल चोकसी की कथित गर्लफ्रेंड बारबरा जराबिका ने किये कई खुलासे, कहा- नहीं हूँ मेहुल की प्रेमिका

नईदिल्ली 9 जून 2021. मेहुल चोकसी के डोमिनिका में गिरफ्तार होने के बाद से ही उसके साथ युरोपियन युवती बारबरा जराबिका का नाम जुड़ रहा था, जिसे मेहुल की कथित गर्लफ्रेंड बताया जा रहा था. हालांकि इस मामले में नाटकीय मोड़ आया. मेहुल चोकसी ने बताया उसका अपहरण किया गया था. यह बात भी सामने आयी की वह हनीट्रैप का शिकार हुआ था. पर मेहुल की डोमिनिका में गिरफ्तारी के बाद से ही बारबारा का कोई पता नहीं चल पा रहा था.

पर अब पहली बार बारबरा जराबिका ने मीडिया के सामने अपनी बात रखी है. एएनआई को दिये गये इंटरव्यू में बारबरा ने कहा कि मेहुल के अपहरण के कोई सबूत नहीं है. जो लोग जॉली हार्बर को जानते हैं वह यह भी जानते होंगे की यहां पर किसी का अपहरण करना मुश्किल है. पर एक रेसिडेंशियल इलाका है.

बारबरा जराबिका ने कहा कि मैंने कई इंटरव्यु में यह भी क्लियर कर दिया है कि मैं उसकी प्रेमिका नहीं हूं. जराबिका ने कहा कि मेहुल ने मेरे लिए होटल बुक करने और फ्लाइट का खर्च उठाने का ऑफर किया था. पर जराबिका ने उसे ठुकरा दिया. उसने बताया कि मेरी अपनी आय और व्यवसाय है. मुझे मेहुल के पैसे की आवश्यकता नहीं है.

बारबरा ने मेहुल के साथ रिश्ते का खुलासा करते हुए कहा कि वह मेहुल को पिछले साल अगस्त से जानती है, जब पहली बार उससे जॉली हार्बर मे मिली थी. क्योंकि जराबिका ने भई एयरबीएनबी आवास किराये पर लिया था, जहां मेहुल रहता था. मेहुल ने जराबिका को अपना परिचय राज के नाम से दिया था. इसके आगे जराबिका ने बताया कि अगस्त से अप्रैल के बीच मेहुल उस मैसेज करता था लेकिन उसने महीने में एक बार ही जवाब दिया.

इसके बाद अप्रैल मई में दोनों के बीच बातचीत शुरु हुई, इस दौरान सिर्फ एक साथ व्यापार करनेके अवसरों के बारे में बात हुई. हालांकि जब बारबरा एंटीगुआ में थी तब रोजाना दोनों की बातचीत होती थी. बारबरा ने मेहुल चोकसी के बार में कहा कि वह उससे क्यूबा के बारे में पूछ रहा था. साथ ही यह भी कहा था कि वो क्यूबा में मिल सकते हैं. मेहुल ने कभी भी अपने भागने के प्लान के बारे में बारबरा को नहीं बताया, पर जराबिका ने कहा कि डोमिनिका मेहुल चोकसी का आखिरी पड़ाव नहीं था.

बारबरा ने आगे कहा कि अगर आप मेरी राय पूछें, तो मैं अधिक से अधिक निश्चित हो सकती हूं कि क्यूबा उनका (मेहुल चोकसी) अंतिम गंतव्य हो सकता था और किसी तरह वह डोमिनिका में रुकना चाहता था. जराबिका ने बताया कि वह युरोपीय और युरोप में रहती है. इसलिए भारत के समाचार ज्यादा नहीं पढ़ती है. मुझे पिछले सप्ताह ही मेहुल के असली नाम और असलियत के बार में पता चला. साथ ही कहा ही मेहुल ने बहुत वजन कम किया है, पहले से वह अलग दिखता है. उसे कोई नहीं पहचान पाएगा.

Spread the love