मेडिकल छात्रा ने डॉ विवेक चैधरी के खिलाफ यौन शोषण की साल भर पहले की थी, मगर महिला डीन ने नहीं की कोई कार्रवाई, थक हार कर छात्रा ने ली महिला आयोग की शरण

NPG.NEWS
रायपुर, 11 सितंबर 2020। राजधानी के डा0 आंबेडकर मेडिकल काॅलेज अस्पताल के करीब पंद्रह बरसों तक मेडिकल सुपरिंटेड रहे डॉ विवेक चैधरी के खिलाफ मेडिकल छात्रा ने यौन शोषण की साल भर पहले भी शिकायत की थी। एमडी की छात्रा ने काॅलेज की महिला डीन से लिखित शिकायत में कहा था कि विवेक चैघरी उनसे अनवांटेड डिमांड कर रहे हैं। मगर डीन ने इस मामले में कोई कार्रवाई नहीं की। उल्टे मामले को दबा दिया गया।
मेडिकल काॅलेज से जब मेडिकल छात्रा को न्याय नहीं मिला तो उसने फिर महिला आयोग की शरण ली। आयोग ने डॉ विवेक चैधरी से जवाब भी तलब किया है।
काॅलेज के सूत्रों का कहना है, पिछले साल यह मामला मसला बहुत तेजी से मेकाहारा के प्रशासनिक भवन में तैरा और इसकी गूंज हुई थी, लेकिन इस मसले ने जितनी तेजी से अपनी जगह बनाई उतनी ही तेजी से यह मामला दब भी गया। पीड़िता छात्रा ने हालाँकि अपनी शिकायत पर कार्यवाही के लिए पुरजोर आवेदन चलाए थे। दावा है कि इन अप्रिय घटनाओं का सिलसिला पुराना है पर सामने आकर सीधे भिड़ंत करने की हिम्मत किसी ने नहीं दिखाई है।
कल यह मामला सुर्खियों में तब आया, जब छात्रा ने महिला आयोग की चेयरमैन किरणमयी नायक के समक्ष शिकायत करते हुए बताया कि विवेक चैघरी पास कराने के लिए किस और रिलेशन बनाने की मांग करते हैं। बताते हैं, छात्रा को एसानइनमेंट में फेल भी कर दिया गया। मेडिकल काॅलेज कैंपस में आज दिन भर इस घटना की चर्चा रही।

 

Get real time updates directly on you device, subscribe now.