महापौर एजाज़ ढेबर ने राज्यपाल अनुसुइया उईके से की सौजन्य भेंट, बूढ़ातालाब एवं विवेकानंद सरोवर देखने आज जाएँगी राज्यपाल

रायपुर 3 नवम्बर 2020। महापौर एजाज़ ढेबर ने नगर निगम रायपुर की ओर से राज्यपाल अनुसुइया उईके से सौजन्य भेंट कर उन्हें नवसुसज्जित बूढ़ातालाब एवं विवेकानंद सरोवर देखने आमंत्रित किया। जिसपर राजयपाल अनुसुइया उइके ने मंगलवार, 3 नवम्बर को आने की स्वीकृति प्रदान की है।
लगभग 87 एकड़ क्षेत्र में फैले ऐतिहासिक बूढ़ातालाब के सौंदर्यीकरण का भरपूर आनंद उठाने के लिए सभी आयु वर्ग के लोगों की सुविधाओं का ध्यान रखा गया है। इसमें देश के सबसे बड़े फॉउन्टेन के साथ लेजर शो, रंग-बिरंगी लाइटें, म्यूजिकल फॉउन्टेन, टनल फॉउन्टेन तथा विशाल प्रवेश द्वार के साथ सौंदर्यीकरण से इसका निखरा भव्य स्वरूप सबके लिए आकर्षण का केन्द्र बना है।
बूढ़ातालाब-स्वामी विवेकानंद सरोवर के सौंदर्यीकरण के तहत वर्षाें से जमी गंदगी को दूर कर पानी को स्वच्छ किया गया है। इसमें तालाब से सटी जर्जर सड़क को नागरिकों के लिए खूबसूरत पाथ-वे का स्वरूप दिया गया है। कोरोना की परिस्थितियों के बाजजूद भी रायपुर स्मार्ट सिटी लिमिटेड ने अल्प अवधि में इस विशाल कार्य योजना को पूरा किया और बूढ़ातालाब स्वामी विवेकानंद सरोवर को नया स्वरूप देते हुए भव्य आकर्षण के केन्द्र के रूप विकसित कर शहरवासियों को इस ऐतिहासिक विरासत से पुनः जोड़ने का काम किया है। इसके तहत तालाब के किनारे नवनिर्मित संरचना से स्वामी विवेकानंद की विशाल प्रतिमा तक पहुंचने के लिए बने फ्लोटिंग डेक ‘‘जल सेतू‘‘ का अहसास करा रहे हैं। आकर्षक प्रवेश द्वार, दो स्तरीय पाथ-वे, म्यूजिकल फॉउन्टेन, टनल फॉउन्टेन, आकर्षक लैंड स्कैपिंग  और जगमगाती रोशनी से तालाब की खूबसूरती का आनंद रायपुर वासियों के साथ देश भर से पहुंचने वाले पर्यटक ले सकेेंगे। यहां चिल्ड्रन पार्क के अलावा नौकायान का भी आनंद ले सकेंगे। साथ ही शहर के नागरिक अपने स्वास्थ्य के प्रति जागरूक रहे, इसलिए यहां ओपन जिम इक्यूपमेंट भी लगाए गए हैं।

Spread the love