“बिल्डर्स मीट” में महापौर एजाज ढेबर ने कहा- जन सुविधाओं का विस्तार कर रायपुर को देंगे विशेष पहचान

रायपुर 30 दिसंबर 2020। रायपुर शहर को स्मार्ट स्वरूप में विकसित करने में स्थानीय बिल्डर्स की भूमिका, सुझाव व सहभागिता प्राप्त करने महापौर एजाज ढेबर की अध्यक्षता में “बिल्डर्स मीट” का आयोजन किया गया। इस सम्मेलन में शहर विकास व सौंदर्यीकरण के साथ ही शहरी परिसंपत्तियों के रख-रखाव व इसके जरिए राजस्व आय के संबंध में भी उपयोगी सुझाव दिये गए। इस अवसर पर महापौर ढेबर ने बिल्डर्स से अपील कर कहा कि शहरी परिसंपत्तियों को जन सहभागिता से पूरा करने प्राथमिकताएं निर्धारित की गई हैं एवं इस संबंध में नियमों में जहां संशोधन की आवश्यकता होगी राज्य शासन व स्थानीय प्रशासन इस दिशा में त्वरित पहल करेगा। सम्मेलन में नगर निगम आयुक्त व रायपुर स्मार्ट सिटी लिमिटेड के प्रबंध संचालक सौरभ कुमार ने सभी संचालित व प्रस्तावित योजनाओं की विस्तार से जानकारी दी। बैठक में एम.आई.सी. सदस्य ज्ञानेश शर्मा, कुमार मेनन, पूर्व पार्षद राधेश्याम बिभार, रायपुर स्मार्ट सिटी लिमिटेड के अपर प्रबंध संचालक प्रभात मलिक, रायपुर स्मार्ट सिटी लिमिटेड के महाप्रबंधक तकनीकी श्री एस.के. सुंदरानी, महाप्रबंधक भू-राजस्व अरविंद शर्मा, नगर नियोजक बीआर. अग्रवाल, क्रेडाई के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष आनंद सिंघानिया, छत्तीसगढ़ क्रेडाई के अध्यक्ष रवि फतनानी, क्रेडाई सदस्य राकेश पांडेय, संजय रहेजा, विजय नथानी, पंकज लाहौटी सहित शहर के कई प्रतिष्ठित बिल्डर सम्मिलित हुए।
रायपुर स्मार्ट सिटी लिमिटेड के सभाकक्ष में आयोजित “बिल्डर्स मीट” में कमिश्नर सौरभ कुमार ने संचालित व प्रस्तावित परियोजनाओं व उनकी विशेषताओं से अवगत कराते हुए बिल्डर्स की भूमिका की चर्चा की । अपने विचार प्रकट करते हुए क्रेडाई के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष आनंद सिंघानिया ने विकास परियोजनाओं के क्रियान्वयन के लिए कुछ नियमों एवं दिशा निर्देशों के सरलीकृत किए जाने की आवश्यकता बताई। क्रेडाई के अध्यक्ष रवि फतनानी ने योजनाओं के क्रियान्वयन के लिए बाज़ार प्रतिस्पर्धा के अनुरूप दरों के निर्धारण को जरूरी बताया। क्रेडाई के सदस्य राकेश पांडेय ने दूरगामी सोच के अनुरूप नियमों के निर्धारण पर जोर दिया।
“बिल्डर्स मीट” में अपनी बात रखते हुए महापौर ढेबर ने कहा कि स्मार्ट सिटी के रूप में सुविधाओं व संसाधनों के विकास के लिए शहरी प्रशासन तेजी से काम कर रहा है। शहर के तालाबों, उद्यानों, पार्किंग, स्कूलों व अन्य सभी तरह की संपत्तियों के उन्नयन में स्थानीय बिल्डर्स की भूमिका बहुत महत्वपूर्ण है अतः उनके सुझाव के अनुरूप विकास योजनाओं को पूरी गति दी जाएगी, उन्होंने सभी की सहभागिता से शहर को सुविधा संपन्न बनाने सभी बिल्डर्स से भी सुझाव आमंत्रित किए हैं। बैठक में बिल्डर जगदीश पटेल, तुलसी भाई पटेल, तुषार दासवानी, मनीलाल पटेल, जगदम्बा पांडेय, जी.एस. राजपाल, अर्चित पारेख, संजीत साहा, के. एल. दासवानी, प्रियंक सिंघानिया, सुरेश कोसरिया, सत्येन्द्र अग्रवाल, अंकुर अरोरा, बोधीसत्व घोष, रिषभ कटारिया, रवि कुमार सहित नगर निगम व स्मार्ट सिटी लिमिटेड के अधिकारी भी उपस्थित रहे।

Spread the love