मरवाही : कल समर्थकों के साथ बैठक के बाद तय होगी मरवाही उप चुनाव में छजका की भूमिका……… चुनाव में भूमिका रहेगी यह तय……पर कैसी इस पर मंथन कल

मरवाही,16 अक्टूबर 2020। मरवाही उप चुनाव में जोगी परिवार का नामांकन ख़ारिज करने के बाद क्या अब मरवाही से जोगी और उनके दल छजकां की भुमिका समाप्त मानी जानी चाहिए। क्या अमित और ऋचा जोगी के नामांकन ख़ारिज होने के बाद कांग्रेस के लिए मामला वॉक ओव्हर का है ?यदि गौरेला स्थित जोगी निवास की हलचल पर ग़ौर करें तो इन सारे सवालों का जवाब “ना” में आने के संकेत हैं।
जोगी निवास में जो हलचल है उसके अनुसार कल अमित जोगी गौरेला अमरकण्टक मार्ग में कहीं पर समर्थकों के साथ बड़ी बैठक करने जा रहे हैं। यह शर्तिया तय बताया जा रहा है कि, छजका भले सीधे तौर पर इस चुनावी संग्राम में नही होगी लेकिन मरवाही के उप चुनाव में जीत हार में अहम भुमिका अदा करेगी। इस बैठक में इस पर विमर्श होना है कि, जीत हार का पासा पलटने की भुमिका किस तरह से क्रियान्वित हो।
अमित जोगी को यह मुकम्मल पता है कि खुद के लिए वोट माँगने और किसी दूसरे के लिए वोट माँगने में कितना फ़र्क़ होता है। मरवाही को घर कहने वाले जोगी परिवार के लिए यह मुश्किल दिखता फ़र्क़, कैसे किस तरह और कितना मिटाया जा सकेगा, इसका आंकलन फ़िलहाल संभव नही है।
पर यह जरुर कहा जा सकता है कि, छजका का कोई नुमाइंदा यदि चुनाव मैदान में सीधे नही भी है तो भी उप चुनाव के महासमर में अमित जोगी को बाहर करा कर अपना “ब्रम्हास्त्र” चला चुकी कांग्रेस के लिए राह उतनी भी आसान नही है।

Get real time updates directly on you device, subscribe now.