2 लाख के ईनामी माओवादी ने किया सरेंडर…. लोन वर्राटू अभियान से प्रभावित होकर कलेक्टर-एसपी के सामने मुख्यधारा में जुड़ने की ली शपथ

दंतेवाड़ा 30 जून 2020। जिले में चलाए जा रहे नक्सल उन्मूलन अभियान के तहत् दिनांक 30.06.2020 को मलांगिर एरिया कमेटी में सक्रिय माओवादी प्लाटून न0 24 का सदस्य भीमा मरकाम पिता सोमडू मरकाम उम्र 22 वर्ष निवासी पदमपारा चिकपाल थाना कटेकल्याण जिला दन्तेवाड़ा द्वारा माओवादियों के खोखली विचार धारा से तंग आकर एवं छत्तीसगढ़ शासन के पुर्नवास योजना से प्रभावित होकर समाज के मुख्यधारा से जुड़कर विकास में सहयोग करने की इच्छा व्यक्त कर कलेक्टर दन्तेवाड़ा दीपक सोनी(भाप्रसे) एवं पुलिस अधीक्षक दन्तेवाड़ा डॉ अभिषेक पल्लव (भा0पु0से0) के समक्ष आत्मसर्मपण किया।

कलेक्टर दन्तेवाड़ा दीपक सोनी(भाप्रसे) का आत्मसमर्पण हेतु प्रेरित करने में महत्वपूर्ण योगदान रहा है। छग शासन के पुर्नवास नीति के तहत् आत्मसमर्पण पश्चात् पुलिस अधीक्षक दन्तेवाड़ा डॉ. अभिषेक पल्लव द्वारा 10 हजार रूपये प्रोत्साहन राषि प्रदाय किया गया। ज्ञात हो कि विगत दो सप्ताह पूर्व से दन्तेवाड़ा पुलिस द्वारा लोन वर्राटू (घर वापस आईये) अभियान चलाया जा रहा है, जिसके माध्यम से जिला दन्तेवाड़ा के विभिन्न ग्रामों के व्यक्ति जो प्रतिबंधित नक्सली संगठन में सक्रिय हैं उन्हें आत्मसमर्पण कर सम्मान पूर्वक जीवन यापन करने का आव्हान पुलिस अधीक्षक दन्तेवाड़ा डॉ0 अभिषेक पल्लव(भापुसे) के द्वारा किया गया है । अभियान के अंतर्गत सभी थाना/कैम्पों एवं ग्राम पंचायतों में संबंधित क्षेत्र के सक्रिय माओवादियों के नाम चस्पा कर समर्पण करने की अपील की गई है ।

आत्मसमर्पित माओवादी निम्नलिखित घटनाओं में शामिल

➢ दिनांक 30.10.2018 को प्रातः नीलावाया रोड़ में वीडियो कवरेज कर रहे डी.डी. न्यूज मीडिया कर्मियों एवं उनकी सुरक्षा दे रहे पुलिस कर्मियों पर नीलावाया गांव के लगभग डेढ किमी. पहले रोड में जंगल के पास अपने अन्य सषस्त्र माओवादियों के साथ घात लगाकर अंधाधुन फायरिंग करने की घटना में शामिल था। जिसमें 03 पुलिस के जवान व 01 मीडिया कर्मी शहीद हुए।

➢ वर्ष 2019 अक्टूबर माह में गष्त पर निकली पुलिस पार्टी पर ग्राम पिट्ेडब्बा के पास पूर्व से घात लगाकर अंधाधुन फायरिंग करने की घटना में शामिल था ।

वर्ष 2014 में माओवादी संगठन में भर्ती होकर कटेकल्याण एरिया कमेटी के ग्राम चिकपाल पंचायत सीएनएम सदस्य के रूप में सक्रिय था । वर्ष 2017 में मंलागिर एरिया के प्लाटून नम्बर 24 का सदस्य बनकर जनवरी 2020 तक सक्रिय रहा । फरवरी 2020 में संगठन छोड़कर ग्राम चिकपाल में रह रहा था किन्तु चिकपाल में पुलिस कैम्प स्थित होने से घर में न रहकर गांव से बाहर ही रहता था । चिकपाल कैम्प के सामने पुलिस द्वारा घर वापसी के लिये लगाये गये होर्डिंग में अपना नाम होना पता चलने व घरवालों के समझाईष पर आत्मसमर्पण हेतु प्रेरित हुआ । दिनांक 25.06.2020 को कलेक्टर दन्तेवाड़ा एवं पुलिस अधीक्षक दन्तेवाड़ा के द्वारा ग्राम चिकपाल मंे जाकर ग्रामीणों से भेंटकर गांव के विकास एवं गांव के सक्रिय माओवादियों के समर्पण हेतु अपील किया गया था ।छग शासन की नई ईनाम पॉलिसी के तहत् माओवादी प्लाटून सदस्य पर 2 लाख रूपये का ईनाम घोषित है।

Spread the love