स्कूल खुलते ही कोरोना से कई बच्चे संक्रमित: राज्य सरकार ने .आनन-फानन में स्कूलों को बंद करने का लिया फैसला….. इसी महीने स्कूलों को खोलने का दिया गया था आदेश….स्कूली बच्चों के कोरोना संक्रमित होने से मचा हड़कंप

करीब सात महीने बाद कई राज्यों में स्कूल खोले गए, लेकिन कोरोना की वजह से हालात इस कदर बन पड़े हैं कि वहां फैसला बदलना पड़ रहा है। मिजोरम में स्कूल खोले जाने के 8 दिन के भीतर ही इसे बंद करने का फैसला लेना पड़ा. मिजोरम सरकार कोरोना वायरस  के बढ़ते मामलों के बीच यह फैसला लिया गया.

 

मिजोरम 25 अक्टूबर 2020। कोरोना काल में स्कूलों को खोलना एक बड़ी चुनौती बन गयी है। केंद्र ने स्कूलों को खोलने की अनुमति तो दे दी है…लेकिन कई राज्य अभी तक ये तय नहीं कर पाये हैं कि वो स्कूल को खोलें या नहींं। इधर कई राज्यों ने केंद्र की अनुमति के बाद स्कूल को खोल तो दिया….अब वहां फिर से स्कूलों को बंद करने के हालात बन पड़े हैं। तेलंगाना के बाद अब मिजोरम में भी ऐसी ही स्थिति सामने आयी है। दरअसल मिजोरम में 16 अक्टूबर से स्कूलों को खोला गया था. इसके बाद कोरोना के दर्जनभर मामले सामने आ गए. कई छात्र भी वायरस की चपेट में आ गए. छात्रों के कोरोना पॉजिटिव पाए जाने के बाद राज्य सरकार हरकत में आई और एक बार फिर से सभी स्कूलों को 26 अक्टूबर से बंद रखने का फैसला किया.

मिज़ोरम राज्‍य के शिक्षा मंत्री लालचंद सिंह राल्ते ने कहा कि मिजोरम सरकार ने स्थानीय स्तर पर COVID-19 मामलों की बढ़ती संख्या के कारण 10वीं और 12वीं कक्षा के फिर से खुले सभी स्कूलों को दोबारा बंद करने का फैसला किया है। उन्होंने कहा कि स्कूल 16 अक्टूबर को दोनों वर्गों के छात्रों के लिए फिर से खोल दिए गए थे, मगर अब स्‍कूल सोमवार से दोबारा बंद रहेंगे क्योंकि राज्य COVID-19 के प्रति ‘नो-टॉलरेंस’ की नीति अपनाएगा।

अगर महामारी की स्थिति में सुधार होता है और इस दौरान संक्रमण के स्थानीय प्रसार की श्रृंखला टूट जाती है, तो स्कूल और हॉस्टल 9 नवंबर को फिर से खुलने की संभावना है। उन्होंने कहा कि अगले साल की बोर्ड परीक्षाओं के लिए रजिस्‍ट्रेशन प्रक्रियाधीन है और ऑनलाइन कक्षाएं जारी रहेंगी। एक अधिसूचना में कहा गया है कि स्‍कूल बंद रहने के दौरान COVID-19 प्रोटोकॉल का सख्ती से पालन किया जाएगा।

राज्‍य में 09 नवंबर तक जारी बंदी के दौरान केवल 70 प्रतिशत सरकारी कर्मचारी वैकल्पिक आधार पर कार्यालय में उपस्थित होंगे और शेष 30 प्रतिशत में युवा कर्मचारी COVID-19 ड्यूटी के लिए तैनात किए जाएंगे। इस दौरान अधिकतम 35 लोग शादी के रिसेप्शन और अंतिम संस्कार में शामिल हो सकते हैं और 20 लोग राजनीतिक और सामाजिक समारोहों में भाग ले सकते हैं।

नए आदेश के अनुसार, जिम और पिकनिक रिसॉर्ट फिलहाल बंद रहेंगे और इनडोर कार्यक्रमों के लिए अधिकतम 10 प्रतिभागियों और बाहरी गतिविधियों के लिए 25 के साथ खेल अभ्यास की अनुमति दी जाएगी। मिजोरम में शनिवार तक 2,389 कोरोनावायरस के मामले सामने आए हैं, जिनमें से 195 सक्रिय मामले हैं। बता दें कि स्‍कूल और कॉलेज खोलने के संबंध में फैसला लेने का अधिकार केन्‍द्र ने राज्‍यों सरकारों को सौंप रखा है।

Spread the love