comscore

कोतवाली सिपाही पिटाई प्रकरण में युवक कांग्रेस की बड़ी कार्रवाई.. युकां सचिव दीपक मिश्रा पद से हटाए गए युंका से सस्पेंड भी..जाँच दल भी गठित

अंबिकापुर,1 मार्च 2021। कोतवाली में घुसकर सिपाही की पिटाई मामले में पीसीसी ने सख़्त तेवर दिखाए हैं। पीसीसी ने पूरे घटनाक्रम पर ज़िला कांग्रेस कमेटी से रिपोर्ट तलब की थी, रिपोर्ट पहुँचने के बाद पीसीसी ने युवक कांग्रेस को आगामी कार्यवाही की अनुशंसा के साथ रिपोर्ट सौंप दी, जिसके बाद युवा कांग्रेस प्रदेश सचिव दीपक मिश्रा को तत्काल प्रभाव से निलंबित कर दिया गया है।
विदित हो कि, 27 फ़रवरी की रात क़रीब नौ बजे कोतवाली अंबिकापुर में सिपाही सत्येंद्र दुबे की दबंगई से पिटाई कर दी गई। थाने के भीतर हुई इस घटना की FIR दर्ज करने में पुलिस के पसीने छूट गए। क़रीब बीस घंटे बाद प्रकरण दर्ज हो पाया। सत्येंद्र दुबे के द्वारा दर्ज FIR में दीपक मिश्रा का नाम भी आरोपियों में शामिल हैं, दीपक मिश्रा के अतिरिक्त मामले में शामिल कुछ अन्य नाम कांग्रेस में पदाधिकारियों की सुची में नहीं है, लेकिन कांग्रेस के एक क़द्दावर मंत्री के करीबी माने जाते हैं।
इस पूरे घटनाक्रम को लेकर जाँच समिति भी गठित की गई है। जाँच समिति की रिपोर्ट के बाद निलंबन समाप्त भी हो सकता है, या इससे भी कड़ी कार्यवाही की जा सकती है।
प्रदेश युवा कांग्रेस महासचिव अशरफ़ हुसैन के हस्ताक्षर से जारी निलंबन आदेश में लिखा गया है –
“सरगुजा ज़िले के अंबिकापुर थाने में हुई घटना निंदनीय है, ऐसे किसी भी घटना का युवा कांग्रेस समर्थन नहीं करती..युंका के राष्ट्रीय महासचिव प्रभारी संतोष गुलकुंडा सह प्रभारी एकता ठाकुर एवं प्रदेश अध्यक्ष पूर्णचंद्र कोको पाढी के निर्देश पर दीपक मिश्रा को तत्काल प्रभाव से पद मुक्त करते हुए आगामी आदेश तक निलंबित किया जाता है..साथ ही इस प्रकरण की निष्पक्ष जाँच एवं उचित कार्यवाही के लिए युंका छत्तीसगढ़ प्रदेश द्वारा तीन सदस्यीय जाँच दल गठित किया गया है”

Spread the love