Begin typing your search above and press return to search.

MP Elections 2023: दिग्विजय के बाद भाजपा प्रदेशाध्यक्ष ने छतरपुर में डेरा डाला, कांग्रेस उम्मीदवार व समर्थकों पर हत्या के प्रयास का मामला दर्ज

MP Elections 2023: मध्य प्रदेश के छतरपुर जिले के राजनगर विधानसभा क्षेत्र में मतदान के दिन कांग्रेस उम्मीदवार विक्रम सिंह 'नाती राजा' के समर्थक सलमान खान की कार से कुचलकर मौत का मामला तूल पकड़े हुए हैै। पहले कांग्रेस के वरिष्ठ नेता व पूर्व मुख्‍यमंत्री दिग्विजय सिंह ने सलमान के शव के साथ थाने के आगे धरना दिया, तो भाजपा उम्मीदवार और उनके समर्थकों पर मामला दर्ज हुआ और अब भाजपा के प्रदेशाध्यक्ष विष्णु दत्त शर्मा के पहुंचने पर कांग्रेस उम्मीदवार व समर्थकों पर हत्या के प्रयास का मामला दर्ज हुआ।

MP Elections 2023: दिग्विजय के बाद भाजपा प्रदेशाध्यक्ष ने छतरपुर में डेरा डाला, कांग्रेस उम्मीदवार व समर्थकों पर हत्या के प्रयास का मामला दर्ज
X
By Npg
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo

MP Elections 2023: मध्य प्रदेश के छतरपुर जिले के राजनगर विधानसभा क्षेत्र में मतदान के दिन कांग्रेस उम्मीदवार विक्रम सिंह 'नाती राजा' के समर्थक सलमान खान की कार से कुचलकर मौत का मामला तूल पकड़े हुए हैै। पहले कांग्रेस के वरिष्ठ नेता व पूर्व मुख्‍यमंत्री दिग्विजय सिंह ने सलमान के शव के साथ थाने के आगे धरना दिया, तो भाजपा उम्मीदवार और उनके समर्थकों पर मामला दर्ज हुआ और अब भाजपा के प्रदेशाध्यक्ष विष्णु दत्त शर्मा के पहुंचने पर कांग्रेस उम्मीदवार व समर्थकों पर हत्या के प्रयास का मामला दर्ज हुआ।

ज्ञात हो कि मतदान के दिन सलमान खान की कार से कुचलकर मौत हो गई थी। इस मामले में कांग्रेस की ओर से भाजपा उम्मीदवार अरविंद पटेरिया और उनके समर्थकों पर आरोप लगा, जिस पर पुलिस ने हत्या, हत्या के प्रयास का मामला दर्ज किया। इस घटना को लेकर दिग्विजय सिंह राजनगर पहुंचे और धरना दिया। वह ठंड की रात में थाने के सामने खटोली पर सोए। पुलिस ने सख्त कार्रवाई का भरोसा दिलाया, तब उन्‍होंने धरना खत्म किया। उसके बाद सोमवार को भाजपा प्रदेशाध्यक्ष छतरपुर पहुंचे और पुलिस अधीक्षक व कलेक्टर को ज्ञापन सौंपा।

पुलिस ने कांग्रेस उम्मीदवार व उनके समर्थकों पर हत्या के प्रयास का मामला दर्ज किया। भारतीय जनता पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष एवं सांसद शर्मा के नेतृत्व में एक प्रतिनिधि मंडल ने सोमवार को छतरपुर जिले के राजनगर थाना क्षेत्र में विधानसभा चुनाव के मतदान से पहले हुई घटना को लेकर कलेक्टर और एसपी को ज्ञापन सौंपा।

मीडिया से बातचीत करते हुए प्रदेश अध्यक्ष शर्मा ने कहा, "सलमान की मौत पर मैं संवेदना व्यक्त करता हूं, लेकिन प्रशासन ने कांग्रेस प्रत्याशी विक्रम सिंह नातीराजा जिन्होंने भारतीय जनता पार्टी के प्रत्याशी से लेकर हमारे कार्यकर्ताओं पर हमला किया, उन पर किसी प्रकार की कोई कार्रवाई नहीं की। पुलिस और प्रशासन ने पूरे मामले में एकतरफा कार्रवाई की है।"

शर्मा ने कहा कि घटना सुबह साढे तीन चार बजे की है। पुलिस को इसकी जानकारी सुबह 6 बजे दी गई। उसके बाद कहा गया कि ड्राइवर सलमान की हत्या हो गई। राजनीतिक लाभ लेने के लिए योजनाबद्ध तरीके से कांग्रेस प्रत्याशी विक्रम सिंह नाती राजा ने ऐसा किया।

शर्मा ने आरोप लगाया कि नातीराजा ने अपने ही ड्राइवर की हत्या करके या कराकर उसकी बलि दे दी। प्रशासन ने बायस्ड होकर इस मामले में एक तरफा कार्रवाई की है। प्रशासन की भी जांच होना चाहिए और इस मामले में दूध का दूध और पानी का पानी होना चाहिए। उन्‍होंने कहा कि इस मामले में कमलनाथ कह चुके हैं कि कुछ नहीं हुआ। 35 लोगों पर बिना जांच के हत्या का मामला दर्ज किया गया। यह सिर्फ राजनीतिक लाभ लेने के लिए किया गया है।

उन्‍होंने कहा, "जब तक पूरे मामले का सत्य सामने नहीं आता, तब तक हम इस मामले को छोड़ेंगे नहीं। कलेक्टर और एसपी को सौंपे ज्ञापन में कहा गया है कि कांग्रेस नेता दिग्विजय सिंह, राजनगर विधानसभा प्रत्याशी विक्रम सिंह नातीराजा, छतरपुर विधानसभा कांग्रेस प्रत्याशी आलोक चतुर्वेदी, महाराजपुर विधानसभा प्रत्याशी नीरज दीक्षित, बड़ामलहरा प्रत्याशी रामसिया भारती, चंदला विधानसभा के प्रत्याशी हरप्रसाद अनुरागी एवं पूर्व से विवादित कई मामलों में आपराधिक पृष्ठभूमि के बिजावर विधानसभा प्रत्याशी चरण सिंह यादव एवं सैकड़ों कार्यकर्ताओं ने मिलजुलकर योजनाबद्ध तरीके से राजनगर विधानसभा में सांप्रदायिक दंगा फैलाने की नियत से विधि विरूद्ध जमाव कर भारी जनसमहू के बीच भड़काऊ बातें व भाषण देकर वैमनस्यता फैलाना, आचार संहिता का उल्लघंन कर आपराधिक कृत्य किया है। दोषियों के खिलाफ आचार संहिता का उल्लंघन करने व विधि विरुद्ध जमाव कर बिना वैधानिक अनुमति के धरना प्रदर्शन करने, सांप्रदायिक सौहार्द बिगाड़ने पर प्रथम सूचना रिपोर्ट दर्ज कर कार्रवाई की जाए।

Next Story