डीपीआई के आदेश की निचले कार्यालयों ने उड़ा दी धज्जियां…. कई जिला पंचायतों ने जारी नहीं किया संविलियन होने वाले शिक्षाकर्मियों की वरिष्ठता सूची.. शिक्षाकर्मी नेता ने कहा – हमें डीपीआई पर है पूरा विश्वास , समय पर होगा संविलियन !

रायपुर 20 अक्टूबर 2020।  निचले कार्यालय उच्च कार्यालय के आदेशों को कितनी गंभीरता से लेते हैं इसका नजारा देखना है तो लोक शिक्षण संचालनालय द्वारा जारी किए गए उस आदेश को देखिए जिसमें संचालक लोक शिक्षण संचालनालय यानी डीपीआई ने सभी जिला पंचायतों को स्पष्ट निर्देश दिए थे की समय पर वरिष्ठता सूची जारी करके 20 तारीख तक अंतिम सूची राज्य कार्यालय को भेजे ताकि समय पर शिक्षाकर्मियों का संविलियन आदेश जारी हो सके लेकिन अंतिम सूची भेजना तो दूर कई जिला पंचायतों ने प्रारंभिक सूची तक जारी नहीं की है इन जिला पंचायतों में जिला पंचायत रायपुर, बेमेतरा , जांजगीर चाम्पा और नारायणपुर शामिल है , वही राजनांदगांव जिला पंचायत में आज सूची जारी करके कल तक दावा आपत्ति मांगी है , ताज्जुब की बात है कि जब संचालक के आदेशों की जिला पंचायत सीईओ ऐसी अवहेलना कर रहे हैं तो फिर अन्य लोगों को क्या न्याय देंगे , यह स्थिति तब है जब एक जिला पंचायत में महज 500 से 600 शिक्षाकर्मी ही संविलियन के लिए शेष है और शिक्षाकर्मी संगठन लगातार कार्यालयों को ज्ञापन सौंप रहे हैं और उनका ध्यान इस ओर आकर्षित कर रहे हैं ।

हमें डीपीआई पर पूरा भरोसा, समय पर होगी संविलियन की प्रक्रिया – विवेक दुबे

जिला पंचायत की कार्यप्रणाली शुरुआत से ऐसी ही रही है हमारे लिए यह कोई नई बात नहीं है । नियमितीकरण, समयमान, पुनरीक्षित वेतनमान जैसे आदेशों के लिए भी चक्कर लगाना पड़ता है लेकिन राज्य कार्यालय से हमें पूरा सहयोग मिल रहा है और संचालक महोदय हमारे विषयों को तत्काल संज्ञान में लेते हैं, हमने इस विषय से भी उन्हें अवगत करा दिया है और उन्हें भी विषय की पूरी जानकारी है । अभी 10 दिन शेष है और हमे पूरा विश्वास है कि संचालक जितेंद्र शुक्ला सर समय पर सारी कार्यवाही पूर्ण करा लेंगे उन्होंने वीसी में भी स्पष्ट निर्देश दिया था और लापरवाही बरतने वालो पर भी उनकी नजर अवश्य होगी ।

Spread the love