“मोहब्बत, मां और मर्डर”: बिलासपुर में महिला पंचायत सचिव की हत्या में सनसनीखेज खुलासा…..ब्वायफ्रेंड संग बेटी को शादी से रोका, तो बहन और आशिक संग मिलकर बेटी ने मां को करंट लगाकर मार डाला….

बिलासपुर 29 अगस्त 2020। कच्ची उम्र में आशिकी इस कदर परवान चढ़ी कि बेटी अपनी मां को ही इश्क का दुश्मन मान बैठी…और फिर एक दिन ऐसा हुआ, जिसे सुनकर आपके रोंगटे खड़े हो जायें। 5 दिन बाद बिलासपुर में महिला पंचायत सचिव की मौत का राज खुला तो ” मोहब्बत, मां और मर्डर” का सनसनीखेज खुलासा सामने आया है। महिला पंचायत सचिव की कातिल कोई और नहीं  बल्कि खुद उसकी बेटी और उसका आशिक निकला…. वही बेटी है, जो अपनी मां की मौत पर सबसे ज्यादा छाती पीट रही थी। मोहब्बत के आड़े आयी मां की कत्ल की कहानी जिस किसी ने सुनी, उसके रोंगटे खड़े हो गये। 

दरअसल बेटी ने अपनी मां की हत्या इसलिये की, क्योंकि उसकी मां उसे बॉयफ्रेंड के साथ उसकी शादी के खिलाफ थी। इस बात से नाराज बेटी ने अपने प्रेमी और मौसेरी बहन के साथ मिलकर अपनी मां की हत्या कर दी। बिलासपुर पुलिस ने मृतिका महिला की बेटी उसके प्रेमी और मौसेरी बहन को गिरफ्तार कर आज इस पूरे मामले का खुलासा किया है।

मामला 25 अगस्त के ग्राम उसलापुर सकरी थाना क्षेत्र का है। मृतिका महिला चंदना डड़सेना मुंगेली के चुंचुनिया पंचायत में सचिव के पद पर थी। महिला का शव उसके बैड़रूम मे 25 अगस्त को मिला था, जिसके बाद मामले को गंभीरता से लेते हुये इसकी जांच शुरू की गयी। पुलिस पूछताछ में पता चला कि महिला अपने 18 वर्षिय बेटी के साथ घर में रहती थी। वारदात के दिन मृतिका की बेटी अपने दोस्तों के साथ कोटा घूमने के लिये गयी हुई थी। मामले मे संदेह के आधार पर पुलिस ने मृतिका की बेटी और उसके दोस्तों से पूछताछ शुरू की।

पूछताछ के दौरान पुलिस को पता चला कि मृतिका की बेटी का कोटा निवासी दिनेश गुप्ता (18वर्ष) के साथ प्रेम प्रसंग चल रहा है। इस आधार पर पुलिस ने संदेही दिनेश गुप्ता को हिरासत मेें लेकर उससे पूछताछ की। पूछताछ में दिनेश पहले तो पुलिस को गोल मोल जवाब देता रहा, जब पुलिस ने कड़ाई से उससे सवाल किया तो उसने हत्या करने की बात कबूल कर ली। आरोपी दिनेश ने पुलिस को बताया कि वो मृतिका की बेटी के साथ प्रेम करता था और दोनों एक दूसरे से शादी भी करना चाहते थे, मगर प्रेमिका की मां रास्ते में रोड़ा पैदा कर रही थी। मृतिका नहीं चाहती थी कि उसकी बेटी उससे मिले। इस बात से परेशान आरोपी दिनेश ने मृतिका की बेटी और उसकी मौसेरी बहन के साथ मिलकर चंदना डडसेना को मौत के घाट उतार दिया।

आरोपियों ने 24 अगस्त की रात महिला को पानी में नींद की गोलियां मिलाकर उसे पिला दिया, जिससे महिला की मौत हो गयी। इसके बाद मौत की पुष्टी के लिये मृतिका को करेंट दिया गया। घटना के बाद आरोपियों ने वारदात को लूट की सक्ल देने के लिये महिला के जेवरात ले भागे। पुलिस ने आरोपी दिनेश गुप्ता, प्रेमिका और उसकी मौसेरी बहन को गिरफ्तार कर लिया है।

Spread the love