…इन शर्तों के साथ खुल सकता है 15 अप्रैल को लॉकडाउन…. सरकार ने प्रांरभिक तौर पर व्यवस्थाओं पर कर रही है विचार…. कई मंत्री एक और लॉकडाउन के पक्ष में … पढिये क्या है प्रारंभिक तौर पर व्यवस्थाएं, जिस पर चल रहा है विचार

नयी दिल्ली 6 अप्रैल 2020। …तो क्या 14 अप्रैल को लाकडाउन खत्म हो जायेगा ?…ये सवाल हर किसी के मन में है। आज प्रधानमंत्री नरेंद्र कैबिनेट की बैठक लेने जा रहे हैं। माना जा रहा है कि आज की बैठक में कोरोना के मद्देनजर कुछ बड़े फैसले लिये जायेंगे। हालांकि पिछले दिनों जो ग्रुप आफ मिनिस्टर्स की बैठक हुई थी, उसमें एक और लॉकडाउन को लेकर चर्चा की गयी थी, कई मंत्री लॉकडाउन का पीरियड बढ़ाने के पक्ष में हैं। देश में स्वास्थ्य संसाधनों की कमी के मद्देनजर एक और लॉकडाउन की जरूरत बतायी जा रही है। हालांकि इसे लेकर अभी कोई फाइनल रिपोर्ट तैयार नहीं हुई है।

हालांकि केंद्र की तैयारी बता रही है कि वो लॉकडाउन का पीरियड अपने स्तर से नहीं बढ़ायेगी, बल्कि राज्य सरकारों के विवेक पर छोड़ेगी की वो अपनी व्यवस्था के अनुरूप लॉकडाउन को बढायें। सरकार का मानना है कि देश में स्वास्थ्य उपकरण की जितनी जरूरत है उनमें से महज 40 प्रतिशत ही उपलब्ध है। 15 अप्रैल को जब लॉकडाउन को हटाया जायेगा, तो कई शर्ते भी साथ बंधी होगी।

जानकारी के मुताबिक इमरजेंसी सेवाएं जारी रहेगी, लेकिन देश में एक जगह इकट्ठा होने पर संपूर्ण देश में बैन रहेगा। उसी तरह रेस्टोरेंट, बार, धार्मिल स्थान, होटल, सिनेमा हॉल अभी बंद रखे जायेंगे, वहीं मॉल को कुछ कड़ी शर्तो के साथ खुलने की इजाजत दी जायेगी। हवाई सेवा शुरू कर दी जायेगी, लेकिन विदेश जाने और आने की अनुमति स्पेशल केस में ही मिलेगी। अंतर्राज्यीय बस और ट्रेन सेवा में आने-जाने के लिए शर्त लगी होगी। अतिआवश्यक होने पर ही यात्रा की इजाजत होगी।

हाट-बाजारों पर भी प्रभावित इलाकों में बैन रहेगा। परीक्षा का पैटर्न भी बदला जायेगा और सभी तरह की दाखिले के लिए आनलाइन परीक्षा आयोजित होगी। अस्पताल में ज्यादा भीड़ ना उमड़े इसके लिए डाक्टर आन कॉल मौजूद रहेंगे। शादी व बर्थडे की पार्टी की भी इजाजत नहीं होगी, स्कूल बंद रहेंगे और वर्तमान में आनलाइन कक्षाएं चलती रहेगी।

Spread the love