लॉकडाउन फिर से : कोरोना के नये वायरस ने दुनिया की नींद उड़ायी….. इस देश के शहरों में लगाया गया 5 और तीन दिन का कंप्लीट लॉकडाउन…

नयी दिल्ली 14 फरवरी 2021। एक तरफ कोरोना वैक्सीन आने के बाद दुनिया राहत की सांस ले रही है, दूसरी तरफ कोरोना के नये वायरस ने दुनिया के कई देशों की नींद उड़ा दी है। कई देशों में तो अब फिर से लॉकडाउन लगने जा रहा है। न्यूजीलैंड के सबसे बड़े शहर में तीन दिन का लॉकडाउन लगाया जा रहा है. तो वहीं विक्टोरिया में भी लॉकडाउन लगाया जा चुका है।

आकलैंड में लॉकडाउन आज रात से

ये लॉकडाउन रविवार की आधी रात से लागू हो जाएगा. सरकार ने ये फैसला शहर में मिले नए कोरोना वायरस के केस सामने आने के बाद लिया है. न्यूजीलैंड की प्रधानमंत्री जेसिंडा अर्डर्न ने कैबिनेट के महत्वपूर्ण सदस्यों के साथ मीटिंग करने के बाद शनिवार शाम में ये फैसला लिया है. प्रधानमंत्री जेसिंडा अर्डर्न ने कहा कि वे तब तक सतर्क रहेंगी, जब तक कि उन्हें शहर में आए नए कोरोना वायरस के बारे में पूरी तरह से सही जानकारी नहीं मिल जाती. ये भी जानकारी जुटाई जा रही है कि क्या नया कोरोना वायरस पहले के मुकाबले अधिक संक्रामक है?

जेसिंडा अर्डर्न ने बताया कि बाकी देश को भी अत्यधिक प्रतिबंधों के अंदर रखा जाएगा ताकि ऑकलैंड शहर के अलावा बाकी जगह लॉकडाउन न लगाना पड़े. रविवार के दिन न्यूजीलैंड के स्वास्थ्य अधिकारीयों ने सूचना दी कि ऑकलैंड में एक ही परिवार के तीन सदस्य ऐसे कोरोना वायरस से संक्रमित पाए गए हैं जिसकी पहचान नहीं की जा सकी है. इसलिए शहर में नए कोरोना वायरस के प्रसार को रोकने के लिए एहतियातन लॉकडाउन का फैसला लिया गया है.

न्यूजीलैंड की प्रधानमंत्री जेसिंडा अर्डर्न ने अपने सभी प्लान कैंसिल कर दिए हैं और वे शहर में कोरोना वायरस रोकने के लिए महतवपूर्ण फैसले लेने के लिए वापस राजधानी वेलिंग्टन आ गई हैं. आपको बता दें कि बाकी देशों के मुकाबले न्यूजीलैंड कोरोना वायरस को पछाड़ने में अत्यधिक सफल रहा है. हालांकि बॉर्डर पर अब भी वापस आने यात्रियों में कोरोना मामले पाए जा रहे हैं लेकिन ऐसे लोगों को न्यूजीलैंड में पहले दो हफ्ते क्वारंटाइन में बिताने पड़ते हैं.

न्यूजीलैंड में कोरोना वायरस से जुड़े ‘कोविड-19 रेस्पोंस मिनिस्टर’ क्रिस हिपकिंस ने कहा है कि ”हालांकि बाकी किसी भी देश के मुकाबले न्यूजीलैंड कोरोना वायरस को देश से बाहर रखने में सक्षम रहा है लेकिन जैसा कि हम कहते भी रहते हैं कि ‘नो रिस्क’ जैसी कोई चीज नहीं है.”

विक्टोरिया में भी लॉकडाउन पहले ही लगा

आइसोलेशन होटल में कोरोना महामारी का केस आने के बाद विक्टोरिया प्रदेश सरकार ने शनिवार से लॉकडाउन लागू करने का ऐलान किया, हालांकि अगले पांच दिन ऑस्ट्रेलियाई ओपन को दर्शकों के बिना जारी रखने की अनुमति दे दी है। विक्टोरिया के प्रधानमंत्री डेनियल एंड्रयूज ने शुक्रवार को प्रदेश भर में पांच दिन के लॉकडाउन की घोषणा की। इसके तहत लोग जरूरी सामान खरीदने, सेवा कार्य या काम के अलावा बाहर नहीं निकल सकेंगे।

उन्होंने कहा कि ऑस्ट्रेलियाई ओपन जारी रह सकता है क्योंकि ये लोग अपने कार्यस्थल पर हैं। उन्होंने कहा, ‘इसके लिए स्टाफ न्यूनतम रखा जाए। ऑस्ट्रेलियाई ओपन होगा लेकिन दर्शक मौजूद नहीं रहेंगे।’ स्कूल और यूनिवर्सिटी सोमवार से बुधवार तक बंद रहेंगे। इसके अलावा शादी या धार्मिक आयोजन के लिए लोगों के जुटने पर प्रतिबंध रहेगा।

लॉकडाउन की घोषणा से पहले मेलबर्न पार्क में आए दर्शकों को प्रवेश द्वार पर ही सामाजिक दूरी बनाए रखने, सैनिटाइजर के इस्तेमाल और नाक के ऊपर तक मास्क लगाने की हिदायत दी गई। ऑस्ट्रेलियाई ओपन 8 से 21 फरवरी तक चलेगा। इससे पहले यहां पहुंचाने वाली चार्टर्ड फ्लाइट में कोरोना के मामले पाये जाने के बाद खिलाड़ियों को 14 दिन कड़े आइसोलेशन में रहना पड़ा था।

Spread the love