comscore

कैशियर को गोली मारकर लुटने वाले कल्याण खाखा को पुलिस ने दबोचा, पहले ही चार आरोपी हो चुके है गिरफ्तार… एक अब भी फरार 

कोरबा 7 अप्रैल 2021। खम्हार ग्रामीण बैंक के कैशियर से लूट के मुख्य आरोपी कल्याण खाखा को गिरफ्तार कर लिया है। आरोपी ने ही कैशियर के दाहिने कंधे पर गोली मारी थी। पुलिस ने आरोपी को झारखंड से गिरफ्तार किया है। इस मामले में पुलिस ने पहले ही चार आरोपी को गिरफ्तार किया था।
दरअसल 1 मार्च को खम्हार ग्रामीण बैंक के कैशियर विनोद लकड़ा को गोली मारकर छह बाइक सवारों ने बैग लूट लिया था। लूटेरों को भरोसा था कि ये बैग नोटों से भरा है, लेकिन बैग खाली था, जिसमें सिर्फ पासबुक और कैशियर का लंच बॉक्स था। लूट की वारदात के दौरान लूटेरों ने दो राउंड फायरिंग भी की थी, जिसमें एक गोली कैशियर को कंधे में लगी थी। वारदात की गंभीरता को देखते हुए इस प्रकरण की मानिटरिंग खुद एसपी संतोष सिंह कर रहे थे। इसी दरम्यान धरमजयगढ़ पुलिस को सजायाफ्ता आरोपी अंजुलस एक्का और संदीप राठिया की धरमजयगढ़ एवं आसपास देखे जाने की सूचना मिली। कोरबा के रहने वाले दोनों आरोपियों को हिरासत में लेकर पूछताछ में 4 अन्य साथी कल्याण खाखा (झारखंड), करन दास महंत ग्राम बांसाझार छाल तथा अंजुलस एक्का का भाई लाजरूस एक्का और अंजुलस का जीजा अनिल तिर्की का नाम सामने आया। जिसमें करनदास महंत और लाजरूस एक्का को भी हिरासत में लिया गया। जबकि, कल्याण खाखा झारखंड और अनिल तिर्की निवासी लेमरू कोरबा फरार था।
जांच के दौरान पुलिस को पता चला की कल्याण खाखा झारखंड में छिपा हुआ है। सूचना मिलने के बाद पुलिस की एक टीम को गुमला झारखंड रवाना किया गया। यहाँ पर कैम्प कर आरोपी कल्याण खाखा को गिरफ्तार कर धरमजयगढ़ लाया गया । फिलहाल इस मामले में अब भी आरोपी अनिल तिर्की फरार है जिसके संबंध में कुछ महत्वपूर्ण जानकारी हासिल हुई है। जल्द ही आरोपी को गिरफ्तार कर लिया जायेगा।

 

 

Spread the love