आधी रात को कोर्ट पहुंचे जज : ऑनलाइन नहीं हो पा रहे थे कनेक्ट तो जज आधी रात चल पहुंचे कोर्ट…… दहेज के मामले में मेजर को भेजा कस्टडी में…. दो बजे रात तक चली सुनवाई

भुवनेश्वर 9 अक्टूबर 2020।ओडिशा के भुवनेश्वर में एक स्थानीय कोर्ट के जज ने दहेज प्रताड़ना के एक केस  में आधी रात को सुनवाई की. इस केस में सेना के एक मेजर पर अपनी पत्नी पर दहेज के लिए प्रताड़ना देने का आरोप लगा था. जज ने आधी रात में इसके लिए सुनवाई करते हुए आर्मी मेजर को जेल भेजने के बजाय आर्मी की कस्टडी में भेज दिया।

सब-डिवीजनल न्यायिक मजिस्ट्रेट कोर्ट के जज एसके मिश्रा इस केस के लिए सुनवाई करने रात के 10 बजे कोर्ट पहुंचे थे. दरअसल, इसके पहले वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए केस की सुनवाई करने की कोशिशें हुई थीं, लेकिन कामयाबी नहीं मिली थी, जिसके बाद जज ने कोर्ट जाकर सुनवाई करने का फैसला किया. सुनवाई रात के डेढ़ बजे के बाद तक चलती रही. सुनवाई खत्म होने के बाद कोर्ट ने आदेश दिया कि गिरफ्तार मेजर को जेल की बजाय आर्मी कस्टडी में भेजा जाए।
इससे पहले, मेजर को दहेज के लिए पत्नी का शारीरिक एवं मानसिक उत्पीड़न करने और हत्या की कोशिश के आरोपों के तहत गिरफ्तार किया गया था। सेना के अधिकारी के खिलाफ पुलिस थाने में दहेज रोकथाम कानून एवं आईपीसी की विभिन्न धाराओं के तहत मामला दर्ज किया गया है। अधिकारी पर आरोप था कि उसने अपनी पत्नी को धमकी दी कि यदि वह अपने माता-पिता के पास से धन लेकर नहीं आती है, तो वह उसे गोली मार देगा।ऑफिसर के खिलाफ पुलिस में भारतीय दंड संहिता (IPC) और दहेज (रोकथाम) अधिनियम की कई धाराओं के तहत केस दर्ज किए गए हैं. आरोप हैं कि ऑफिसर ने अपनी पत्नी को अपने मायके से पैसे लाने को कहा था और पैसे न लाने की स्थिति में गोली मारने की धमकी दी थी.

Get real time updates directly on you device, subscribe now.