npg

IPS मैडम को चाहिए घी वाली मटन बिरयानी, वो भी फोकट में!…..मांगा पैसा तो बोली- ऑडियो क्लिप वायरल होने पर गृहमंत्री ने दिए जांच के आदेश

पुणे 31 जुलाई 2021। पुणे की DCP मैडम को एसपी होटल की बिरयानी चाहिए, वो भी मुफ्त में! डीसीपी मैडम की यह फरमाइश सोशल मीडिया पर खूब वायरल हो रही है. डीसीपी प्रियंका नारनवरे के इस काम से तंग आकर कर्मचारियों ने सीधा DGP को पत्र लिख कर शिकायत कर दी. महाराष्ट्र के गृहमंत्री दिलीप […]

Spread the love

IPS मैडम को चाहिए घी वाली मटन बिरयानी, वो भी फोकट में!…..मांगा पैसा तो बोली-  ऑडियो क्लिप वायरल होने पर गृहमंत्री ने दिए जांच के आदेश
X

पुणे 31 जुलाई 2021। पुणे की DCP मैडम को एसपी होटल की बिरयानी चाहिए, वो भी मुफ्त में! डीसीपी मैडम की यह फरमाइश सोशल मीडिया पर खूब वायरल हो रही है. डीसीपी प्रियंका नारनवरे के इस काम से तंग आकर कर्मचारियों ने सीधा DGP को पत्र लिख कर शिकायत कर दी. महाराष्ट्र के गृहमंत्री दिलीप वलसे पाटील ने इस संबंध में जांच का आदेश दे दिया है.

पुणे की इस आईपीएस की अधीनस्थ पुलिस अधिकारी से मुफ्त बिरयानी की मांग करते हुए आडियो क्लिप वायरल होने के बाद अब मुश्किलें बढ़ गयी है। गृहमंत्री दिलीप वलसे पाटिल ने पुणे के पुलिस आयुक्त को मामले की जांच के आदेश दे दिए हैं। वायरल हो रहे आडियो क्लिप में पुणे जोन-एक की पुलिस उपायुक्त अपने अधीनस्थ एक कर्मचारी से यह पूछती सुनाई दे रही हैं कि विश्रामबाग पुलिस थाना क्षेत्र में अच्छी बिरयानी कहां मिलती है? जब उनका अधीनस्थ कर्मचारी बताता है कि एक जगह देशी घी की बिरयानी अच्छी मिलती है, तो डीसीपी महोदया उसे बिरयानी लाने का आदेश देती हैं, और कहती हैं कि यदि वह पैसा मांगे तो क्षेत्रीय थानाध्यक्ष से बात कर लेना।

अधीनस्थ पुलिसकर्मी जब यह बताता है कि बाहर से खाना मंगाने पर वह लोग हमेशा भुगतान करते हैं, तो डीसीपी महोदया गरम होकर कहती हैं कि अपने ही क्षेत्र में मुझे पैसे देना पड़े तो क्या फायदा। अब इस बातचीत का आडियो क्लिप वायरल होने के बाद डीसीपी महोदया सफाई दे रही हैं कि उनके खिलाफ साजिश रची जा रही है। चूंकि इस आडियो क्लिप में थोड़ा फेरबदल किया गया है, इसलिए उन्होंने साइबर क्राइम सेल में इस घटना की एफआईआर भी दर्ज करा दी है। जबकि राज्य के गृहमंत्री दिलीप वलसे पाटिल ने इस मामले को गंभीर बताते हुए पुणे पुलिस आयुक्त को घटना की जांच के आदेश दे दिए हैं।

‘विभाग के कुछ लोग मुझे बाहर करना चाहते हैं’
महिला पुलिस अधिकारी ने कहा, ‘यह मेरे खिलाफ एक साजिश है। कुछ पुलिसकर्मी कई सालों से एक ही जोन में तैनात हैं। यहां जोन में उनके कुछ वित्तीय हित हैं। यहां काम करने वाले कुछ वरिष्ठ अधिकारी भी इसमें शामिल हैं।’ अधिकारी ने आरोप लगाया, ‘विभाग में कुछ लोग हैं जो मुझे बाहर करना चाहते हैं क्योंकि मेरे यहां कार्यभार संभालने के बाद उनकी गतिविधियां बंद हो गई।’ अधिकारी ने कहा कि ऑडियो के साथ आंशिक रूप से छेड़छाड़ की गई है और वह साइबर अपराध प्रकोष्ठ में शिकायत दर्ज कराएंगी।

मैडम को चिकन बिरयानी पसंद है, मैडम के पति को मटन बिरयानी

मैडम के पति को मटन बिरयानी पसंद है जबकि मैडम को चिकन बिरयानी पसंद है. फोन पर ऑर्डर देते वक्त यदि होटल मालिक पैसे मांगे तो मैडम अपने कर्मचारी से स्थानीय पुलिस स्टेशन के पुलिस इंस्पैक्टर से बताने को कहती है. डीसीपी मैडम के इस कारनामे से तंग आकर कर्मचारी ने सीधा डीजीपी को पत्र लिखा है. भ्रष्टाचार बढ़ाने वाली इस महिला की कार्रवाइयों की जांच करवाने की मांग पर ध्यान देते हुए महाराष्ट्र के गृहमंत्री दिलीप वलसे पाटील ने खुद यह ऑडियो क्लिप को सुनकर जांच का आदेश दे दिया है. उन्होंने पुणे पुलिस आयुक्त से इस संबंध में जांच कर रिपोर्ट पेश करने को कहा है.

5 मिनट का है पूरा ऑडियो

DCP प्रियंका नारनवरे ने कहा है कि यह ऑडियो क्लिप उनका नहीं है, उन्‍हें साजिश के तहत फंसाया जा रहा है. यह ऑडियो क्लिप करीब 5 मिनट की है. इसमें डीसीपी मैडम मटन बिरयानी, प्रॉन्स और एक अन्य नॉनवेज डिश का ऑर्डर देने के लिए अपने कर्मचारियों से कह रही है. उन्हें यह सबकुछ एक अच्छे होटल से चाहिए. ये व्यंजन ज्यादा तेल वाले और तीखे भी नहीं होने चाहिए. यह भी निर्देश है कि स्वाद में कोई कमी नहीं होना चाहिए. यह डीसीपी मैडम सिर्फ ऑर्डर देकर नहीं रूकतीं. वे अपने कर्मचारी से यह भी सवाल करती हैं कि अगर होटल अपने कार्यस्थल के सीमाक्षेत्र में है तो पैसे देने की क्या जरूरत है? वह कर्मचारी मैडम से यह कहता है कि इससे पहले वहां से खाने का ऑर्डर पैसे देकर ही किया जाता रहा है. लेकिन डीसीपी मैडम यह खाना फ्री में ही मंगवाने पर अड़ी हुई हैं. यह सब वायरल हो रहे ऑडियो क्लिप में स्पष्ट हो रहा है.

क्या है वायरल हो रहे ऑडियो क्लिप में?

वायरल हो रहे ऑडियो क्लिप में पूरी बातचीत मराठी में हो रही है. उसका हिंदी अनुवाद यहां दिया जा रहा है.

महिला डीसीपी- विश्रामबाग के पास नॉनवेज खूब बढ़िया मिलता है, वो बता रही थी मुझे

पुलिस कर्मचारी- जी…

महिला डीसीपी- कहां?

पुलिस कर्मचारी- वो मैडम…एसपी बिरयानी वाले की शुद्ध घी की बिरयानी

महिला डीसीपी- अच्छा…और कुछ, या बस इतना ही?

पुलिस कर्मचारी- और एक मटन थाली नाम से है कोल्हापुर की

महिला डीसीपी- ज्यादा बढ़िया कहां का है?

पुलिस कर्मचारी- शुद्ध घी वाली मैडम…एसपी बिरयानी वाले की…उनके पास दो-दो तरह की…एक नल्ली निहारी स्पेशल है…ऑइली बिलकुल नहीं है…और शुद्ध घी वाली भी बढ़िया है मैडम…कलर वगैरह नहीं डाला जाता है…

महिला डीसीपी- ठीक, जो एक बढ़िया होगा वो सोनावणे के पास भिजवा देना…अगर कोई प्रॉब्लम हो तो पुलिस इंस्पैक्टर को बता देना, बोलना मैडम ने कहा है…मैं बोलती हूं पीआई को…

पुलिस कर्मचारी- नहीं मैडम करता हूं मैं

महिला डीसीपी- नहीं लेकिन…अगर उसके क्षेत्र में आता है तो पैसे क्यों देना…अपने क्षेत्र में आने पर भी पैसे दें क्या हम?

पुलिस कर्मचारी- हमने इससे पहले ऐसा कभी किया नहीं…ठीक है मैडम मैं पीआई को बोलता हूं और ऐसा ही करता हूं…

महिला डीसीपी- तो तुम लोग क्या करते हो?

पुलिस कर्मचारी- हमलोग कैश देते हैं मैडम

महिला डीसीपी- पे करके?

पुलिस कर्मचारी- हां मैडम…पे करके

महिला डीसीपी- इतना करेगा वो…उस दिन मुझे बता रहा था कि एक होटल है…इतना करेगा वो…इतना क्या है?

पुलिस कर्मचारी- हां मैडम, मैं बोलता हूं

महिला डीसीपी- नहीं तो दूसरा कोई होगा तो…या मैं बोलती हूं

पुलिस कर्मचारी- नहीं मैं बोलता हूं

महिला डीसीपी- उस दिन उसने मुझसे कहा…हम जब उधर घुम रहे थे तब उसने मुझसे कहा…लेकिन यह हमारे क्षेत्र में है तो पैसे क्यों पे करना…अपने क्षेत्र में कोई पैसे पे करता है क्या?..मुझे नहीं मालूम

Next Story