IPS भावना गुप्ता बनीं स्टेट नोडल आफिसर….महिलाओं के विरुद्ध होने वाले अपराध की निगरानी के लिए पीएचक्यू में बना विशेष सेल

NPG.NEWS
रायपुर, 23 अक्टूबर, 2020। सीएम भूपेश बघेल के निर्देश के बाद डीजीपी डीएम अवस्थी ने महिलाओं के विरुद्ध होने वाले अपराध की रियल टाइम मॉनिटरिंग के लिए विशेष महिला सेल का गठन किया है। पश्चिम बंगाल से इंटर कैडर डेपुटेशन पर आईं आईपीएस भावना गुप्ता को विशेष सेल का प्रभारी बनाया गया है। गूगल स्प्रेड शीट के जरिए अब प्रदेशभर के 450 से ज्यादा थानों में महिलाओं के विरुद्ध होने वाले अपराध की लगातार निगरानी की जाएगी। डीजीपी अवस्थी भी हर दिन मॉनिटरिंग करेंगे।
अब प्रदेश के किसी भी थाने में महिलाओं के विरुद्ध किसी भी तरह के अपराध की रिपोर्ट दर्ज होती है तो उसकी तत्काल गूगल स्प्रेड शीट में एंट्री करनी होगी। इसके बाद पुलिस मुख्यालय का विशेष सेल इसकी निगरानी शुरू कर देगा। 15 दिन के भीतर यदि आरोपी की गिरफ्तारी नहीं होगी तो यलो अलर्ट आएगा। आरोपी की गिरफ्तारी के 15 दिन में चालान पेश नहीं होने पर रेड अलर्ट आएगा। 60 दिन के भीतर यदि चालान पेश नहीं होगा तो ब्लैक लिस्टेड कर दिया जाएगा। इसके बाद एसपी संबंधित थाने के टीआई या प्रभारी को सस्पेंड करेंगे और विभागीय जांच भी शुरू की जाएगी। डीजीपी अवस्थी ने शुक्रवार को वीडियो कांफ्रेंसिंग के जरिए सभी आईजी-एसपी को बताया कि यह व्यवस्था एक नवंबर से शुरू होगी। इसके बाद कोई भी प्रक्रिया का पालन नहीं करेगा तो तत्काल कार्रवाई करें। बता दें कि कुछ दिन पहले ही सीएम भूपेश बघेल ने गृह विभाग के कामकाज की समीक्षा की थी। इससे ठीक पहले लापरवाही के मामले में बलरामपुर के एसडीओपी और टीआई को सस्पेंड कर दिया गया था। इस बैठक में ही मुख्यमंत्री ने डीजीपी से ऐसा सिस्टम तैयार करने कहा था, जिससे पुलिस मुख्यालय से ही ऐसे मामलों की निगरानी संभव हो सके। इसके बाद डीजीपी ने यह व्यवस्था लागू करने के साथ ही त्वरित जांच कार्रवाई कर आरोपी को कम समय में सजा दिलाने वाले अधिकारी को पुरस्कृत करने का भी ऐलान किया है।
भावना गुप्ता नारायणपुर के जिला पंचायत के आईएएस सीईओ राहुल देव गुप्ता की पत्नी हैं। हाल ही में उनका कैडर चेंज होकर छत्तीसगढ़ हुआ है।

Spread the love